अब टैबलेट बताएगा शिक्षकों की लोकेशन

धमतरी : सर मैं रास्ते में हूं। वाहन खराब हो गया है। बच्चे को स्कूल छोडऩे जा रहा हूं उसके बाद आऊंगा जैसे बहाने बनाकर अब शिक्षक-शिक्षिका, प्राचार्य या प्रधानपाठक से अपनी उपस्थित दर्ज नहीं करा पाएंगे। इस तरह का कोई बहाना नहीं चलेगा, क्योंकि हर सरकारी स्कूल में अब कॉसमॉस टेबलेट से शिक्षकों की उपस्थिति की मॉनीटरिंग होगी।
अधिकांश गांवों और दूरदराज के स्कूलों में पढ़ाने वाले किसी न किसी शिक्षक-शिक्षिका की लेटलतीफी से स्कूल पहुंचने की शिकायत ग्रामीण करते रहते हैं। देरी और लापरवाही पर शिकंजा कसने राज्य शासन जल्द ही स्कूलों में जीपीएस सिस्टम वाला टैबलेट मुहैया करवाएगा। टेबलेट से शिक्षक-शिक्षिका के स्कूल में उपस्थिति का लोकेशन पता चल जाएगा। यह टैबलेट कक्षाओं में उपस्थित विद्यार्थियों की संख्या भी बताएगा। वहीं मध्यान्ह भोजन में होने वाले हेरफेर पर भी विराम लगाने के काम आएगा।

Back to top button