आखिरकार जिमबाब्वे से जीता श्रीलंका, थिसारा परेरा का हरफनमौला प्रदर्शन

आखिरकार जिमबाब्वे से जीता श्रीलंका, थिसारा परेरा का हरफनमौला प्रदर्शन

जालंधर : बांगलादेश में चल रही त्रिकोणीय शृंख्ला में आखिरकार श्रीलंका की टीम ने ढाका स्टेडियम में खेले गए चौथे मैच के दौरान जिमबाब्वे को 5 विकेट से हरा दिया। जिमबाब्वे कप्तान ग्रीम क्रीमर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। ओपनर मस्कदजा और मीर ने जिमबाब्वे को अच्छी शुरुआत दी। लेकिन तीन ओवर में तीन विकेट गिरने के बाद विकेटकीपर ब्रॉन्डेन टेलर ने एक छोर संभाल लिया। उन्होंने 80 गेंद में 58 रन की सधी हुई पारी खेली। टेलर के अलावा वैलर ने 24 तो कप्तान क्रीमर ने 42 गेंद पर 34 रन बनाए। लेकिन बाकी बल्लेबाजों का साथ न मिलने के कारण जिमबाब्वे टीम 44 ओवर में महज 198 रन पर आऊट हो गई।

परेरा और धनंजय ने तोड़ी कमर : श्रीलंका टीम की तरफ से मध्य गति के तेज गेंदबाज फर्नांडो ने 3 तो परेरा ने 4 विकेट झटके। सदाकंद ने भी 57 रन देकर दो विकेट झटकने में कामयाब रहे। टीम के मुख्य गेंदबाज सुरंगा लकमल को कोई विकेट तो नहीं मिला लेकिन उन्होंने सधी हुई गेंदबाजी करते हुए 7 ओवर में केवल 23 रन दिए। वहीं फर्नांडो ने बेहतरीन गेंदबाजी जारी रखते हुए 8 ओवर में 2 मेडन फेंकर 3 विकेट झटके। जबकि परेरा ने 8 ओवर में 33 रन देकर 4 विकेट झटके।

मेंडिस, चंडीमल, परेरा ने खेली उपयोगी पारियां : 199 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका टीम को ओपनर परेरा और थरंगा ने शानदार शुरुआत दी। हालांकि दसवें ओवर में थरंगा 17 रन पर आऊट हो गए लेकिन इसके बाद मेंडिस के साथ परेरा 70 रन की उपयोगी पार्टनरशिप निभाई। परेरा के आऊट होने पर क्रीज पर आए डिकवेला (7) भी कुछ खास नहीं कर पाए। लेकिन कप्तान चंडीमल ने एक छोर संभालकर उपयोगी 38 रन बनाकर टीम को जीत की ओर ले गए। अंत में थिसारा परेरा के 26 गेंदों में तीन छक्कों की मदद से बनाए गए 39 रन की बदौलत श्रीलंका टीम ने जिमबाब्वे को 5 विकेट से हरा दिया। जिमबाब्वे की तरफ से केवल मुजाराबाणी ने 52 रन देकर तीन विकेट लिए। थिसारा परेरा को हरफनमौला प्रदर्शन के चलते मैन ऑफ द मैच चुना गया।

1
Back to top button