गणतत्र दिवस समारोह में नहीं दिखेगी दिल्ली और पश्चिम बंगाल की झांकी

नई दिल्ली. अब गणतंत्र दिवस की झांकी को लेकर दिल्ली सरकार और केन्द्र के बीच घमासान के संकेत मिल रहे हैं. सूचना है कि गणतंत्र दिवस के मौके पर इस बार दिल्ली की झांकी नहीं दिखेगी. कहा जा रहा है कि अरविंद केजरीवाल की सरकार द्वारा समय पर प्रपोजल नहीं भेजने के कारण ऐसा हुआ है. इसके साथ ही गणतंत्र दिवस समारोह में पश्चिम बंगाल की भी झांकी को भी स्थान नहीं दिया गया है.

दिल्ली सरकार में आर्ट एवं कल्चर विभाग में उपसचिव सिंधु मिश्रा ने बताया कि रक्षा मंत्रालय को झांकी का प्रस्ताव भेजने में देरी हुई, जिसके कारण दिल्ली की झांकी गणतंत्र दिवस के परेड में शामिल नहीं हो पाएगी. उन्होंने इस बात से इनकार किया कि दिल्ली सरकार झांकी में एजुकेशन सिस्टम मॉडल को दिखाना चाहती थी, जिसे स्वीकार नहीं किया गया.

दिल्ली के साथ ही इस बार गणंतत्र दिवस के मौके पर पश्चिम बंगाल की झांकी भी नहीं दिखेगी. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसको लेकर नरेंद्र मोदी की सरकार की कड़ी आलोचना की है. दरअसल, पश्चिम बंगाल सरकार इस बार एकता की थीम पर झांकी पेश करने का प्रस्ताव दिया था, लेकिन इसे स्वीकार नहीं किया गया. ममता बनर्जी ने मोदी सरकार को आड़े हाथ लेते हुए भाजपा पर लोगों को धर्म के आधार पर बांटने का आरोप लगाया है.

advt
Back to top button