जेडीयू न तो एनडीए में जा रहा, न ही बिहार सरकार को कोई खतरा : केसी त्यागी

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) और जनता दल- यूनाईटेड (जेडीयू) गठबंधन में चल रही तनातनी के बीच जेडीयू के तेवर अब नरम पड़ गए हैं. कांग्रेस सहित विपक्षी दलों को खरीखोटी सुना चुके जेडीयू के महासचिव केसी त्यागी का रुख अब नरम पड़ चुका है. केसी त्यागी ने एनडीटीवी इंडिया से खास बातचीत में आज कहा कि वे न तो एनडीए गठबंधन में शामिल होने जा रहे हैं और न ही बिहार सरकार को कोई खतरा है.

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर भले ही जेडीयू ने विपक्षी पार्टियों से अलग रास्ता अख्तियार कर लिया हो लेकिन जेडीयू ने साफ किया है कि न तो कोई तलवार खिंची है और न ही कोई टकराव है. सारी तलवारें म्यान में हैं. त्यागी ने कहा है कि ”राष्ट्रपति चुनाव में हमारी और हमारी मित्र पार्टियों की राय अलग-अलग है, जिसका गठबंधन की एकता पर कोई असर नहीं पड़ेगा.”

बिहार की बेटी मीरा कुमार को समर्थन देने के सवाल पर त्यागी ने कहा कि ”वे पहले ही पराजित हैं. उनके पास 41 फीसदी वोट हैं, वे पहले से ही हारी हुई हैं और हमने उसमें कोई बदलाव नहीं किया है.” हालांकि त्यागी ने एक बार फिर अटल बिहारी वाजपेयी की तारीफ करते हुए कहा कि उनके साथ काम करते हुए कभी भी असुविधा नहीं हुई. अटल जी के वक्त शरद यादव, नीतीश कुमार, सब मंत्री थे. किसी के खिलाफ कोई व्यक्तिगत टिप्पणी नहीं होती थी. सारे विवादित मुद्दों को अलग रखा गया था, चाहे वह राम जन्मभूमि का मुद्दा हो या फिर यूनिफार्म सिविल कोड का हो.

Back to top button