राष्ट्रीय

द‍िल्‍ली में 15 अगस्‍त पर तबाही मचाने के ल‍िए ग्रेनेड ले जा रहा था आतंकी गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर पुलिस को मिली बड़ी सफलता

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर पुलिस ने आज दावा किया कि उसने एक आतंकवादी को गिरफ्तार कर दिल्ली में स्वतंत्रता दिवस समारोह में खलल डालने के अंसार गजवत उल हिन्द आतंकी संगठन के प्रयास को विफल कर दिया है। गजवत उल हिन्द आतंकी संगठन अलकायदा से जुड़ा है।

पुलिस महानिरीक्षक (जम्मू) एसडी एस जामवाल ने यहां संवाददाताओं को बताया कि दक्षिण कश्मीर के डांगेरपुरा-अवंतीपुरा निवासी इरफान हुसैन वानी को कल जम्मू शहर के गांधीनगर इलाके से गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि पुलिस के एक दस्ते ने उसे चत्री प्वाइंट पर संदिग्ध परिस्थितियों में घूमते देखा। जब उसकी तलाशी ली गई तो उसके बैग से आठ ग्रेनेड मिले। उसे तत्काल हिरासत में ले लिया गया और पूछताछ की गई। जामवाल ने कहा, ‘‘वह (वानी) ग्रेनेड का जखीरा किसी को सौंपने दिल्ली जा रहा था। ग्रेनेडों का इस्तेमाल स्वतंत्रता दिवस समारोह में खलल डालने के लिए किया जाना था।’’ उन्होंने बताया कि उसके पास से 60 हजार रुपये भी मिले।

जम्मू पुलिस के प्रमुख ने बताया कि पूछताछ के दौरान 25 वर्षीय वानी ने खुलासा किया कि वह आतंकी जाकिर मूसा के नेतृत्व वाले अंसार गजवत उल हिन्द से जुड़ा है। उसने यह भी बताया कि वह इस संगठन के दूसरे नंबर के आतंकी रेहान के संपर्क में था। उन्होंने कहा, ‘‘बी ए की पढ़ाई बीच में छोड़ने वाला और कट्टरपंथ का शिकार हुआ आतंकी पिछले एक साल से आतंकवाद में सक्रिय था। उसकी गिरफ्तारी से दिल्ली में और जम्मू के कई हिस्सों में स्वतंत्रता दिवस समारोह में खलल डालने का एक बड़ा प्रयास विफल हो गया है।