नेपाल में स्थानीय चुनाव के दूसरे चरण में 62 फीसदी मतदान

काठमांडो: नेपाल में लगभग दो दशक के बाद हो रहे स्थानीय चुनाव के दूसरे चरण के मतदान में आज लाखों लोगों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। इन चुनावों को लोकतंत्र कायम रखने के लिहाज से बेहद अहम माना जा रहा है।

चुनाव आयोग के संयुक्त निवार्चन परिचालन केंद्र ने कहा कि स्थानीय समयानुसार शाम साढ़े चार बजे तक करीब 62 फीसदी वोट पड़े। बीते 14 मई को हुए पहले चरण के मतदान में 71 फीसदी लोगों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था। दूसरे चरण में सुबह सात बजे मतदान शांतिपूर्ण ढंग से आरंभ हुआ। पश्चिमी नेपाल की रोलपा नगरपालिका के वार्ड 9 में मतदान रोक दिया गया क्योंकि एक मतदाता ने मतपेटी में तेजाब डाल दिया। पुलिस के अनुसार तेजाब की वजह से 10 मतपत्र नष्ट हो गए। पुलिस उपाधीक्षक राम प्रसाद घरती मगार ने कहा कि इस मामले की जांच की जा रही है।
प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने ददेलधुरा जिले के असीग्राम उच्चर माध्यमिक विद्यालय में बने मतदान केंद्र पर अपना वोट डाला। अपने एक संक्षिप्त बयान में देउबा ने कहा कि स्थानीय स्तर पर चुनाव इसलिए कराए गए हैं ताकि ग्रामीण खुद सरकार बना सकें । उन्होंने उम्मीद जताई कि स्थानीय सरकार के गठन के पश्चात संविधान को पूरी तरह से लागू किया जा सकेगा और विकास कार्य अधिक तेजी से,ज्यादा प्रभावी तरह से और पारदर्शी तरीके से आगे बढ़ेंगे। नेपाली मीडिया का कहना है कि मतदान के दौरान एक व्यक्ति की स्वाभाविक कारणों से हुई।

Back to top button