पेट्रोल पंप लुटेरों का अंतर्राज्यीय गिरोह पकड़ाया

रायपुर: राजधानी पुलिस ने पेट्रोल पंप में लूट की वारदात को अजांम देने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह को गिरफ्तार किया है। आरोपियों पर अन्य प्रदेशों में भी लूट की वारदात कर चुके हैं। आरोपी ट्रांस्पोर्ट के काम से जुड़े हैं, पेट्रोल पंप पर ईंधन भराने के दौरान रेकी किया करते थे। आरोपियों के पास से ट्रक और हथियार बरामद किया गया है।

कौन हैं ये आरोपी और कैसे चढ़े पुलिस के हत्थे :

रायपुर पुलिस अधीक्षक अमरेश मिश्रा ने कहा कि, आरोपी मुस्लिम अंसारी (28) निवासी चरकमरा थाना सारठ जिला देवघर झारखण्ड, अफरोज आलम उर्फ कुटला (26) निवासी चरकमरा थाना सारठ जिला देवघर झारखण्ड, आलम अंसारी (21) निवासी चरकमरा थाना सारठ जिला देवघर झारखण्ड, सद्दाम अंसारी (24) चरकमरा थाना सारठ जिला देवघर झारखण्ड, शेख सागर (18) निवासी राधामोहनपुर थाना सोनामुखी जिला बांकुरा पश्चिम बंगाल और आफताब आलम (26) चरकमरा थाना सारठ जिला देवघर झारखण्ड को गिरफ्तार किया गया है।

आरोपी मुस्लिम अंसारी गिरोह का सरगना है। वहीं बाकी आरोपी ड्रायवर और खलासी का काम करते हैं। जब आरोपियों को गिरफ्तार किया गया , उस वक्त ये लोग एक वारदात को अंजाम देने जा रहे थे । इनको रायपुर के आरंग थाना इलाके में गिरफ्तार किया गया।

किस मामले में थे वांछित :

उन्होंने कहा कि, राजधानी रायपुर के आंरग थाना इलाके के बीपीसीएल पेट्रोल पंप में 10 दिसंबर 2017 को लूट की वारदात हुई थी। घटना सुबह 4-5 बजे 4 नकाबपोशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस की टीम आरोपियों की तलाश में झारखण्ड की ओर रवाना की गई थी। पुलिस को मुस्लिम अंसारी के बारे में जानकारी मिली।

यह आरोपी गिरोह का सरगना है। इस दौरान पुलिस झारखण्ड में अन्य मामलों में गिरफ्तारी के लिए पहुंची थी तो आरोपी की जानकारी मिली। यह जानकारी रायपुर में पुलिस अधिकारियों को दी गई। रायपुर के आरंग थाना इलाके में ट्रक क्रमांक डब्ल्यूबी 53 बी 6195 को घेरबंदी कर रोका गया। ट्रक में आरोपी मुस्लिम अंसारी, अफरोज आलम उर्फ कुटला, आलम अंसारी, सद्दाम अंसारी और शेख सागर मौजूद थे। आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। आरोपी मुस्लिम, अफरोज और आलम आरंग की वारदात में शामिल थे।

वारदात को अंजाम देने का तरीका :

गिरोह के सदस्य झारखण्ड के देवघर और पश्चिम बंगाल के सीमावर्ती जिलों के रहने वाले हैं। ये उड़ीसा से लोहे का सामान लाकर महाराष्ट्र में सप्लाई करते हैं और लौटते समय महाराष्ट्र से प्याज का परिवहन करते हैं। आरोपी आते जाते समय मौका पाकर लूट की वारदात को अंजाम देते आए हैं।

आरंग की घटना के दौरान आरोपी लोहा लेकर महाराष्ट्र के जालना जा रहे थे। रायपुर में वारदात को अंजाम देने के बाद महाराष्ट्र पहुंचाकर दूसरे रास्तों से वापस लौट गए। लौटते वक्त आरोपियों ने उडि़सा में भी लूट और डकैती की वारदात को अंजाम दिया।
आरोपियों के पास से 2 पिस्टल, 1 कट्टा, 3 मैग्जीन सहित दर्जनों राउण्ड बरामद किया गया। 29 हजार रुपए कैश भी बरामद किए गए हैं।

1
Back to top button