राष्ट्रीय

बजट पर राहुल गांधी का तंज, ‘शुक्र है’ सरकार का केवल एक साल बचा है

बजट पर राहुल गांधी का तंज, 'शुक्र है' सरकार का केवल एक साल बचा है

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बजट को लेकर केंद्र सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि पिछले चार वर्षों में केवल वादे किए गए हैं और ‘शुक्र है कि’ मोदी सरकार का केवल एक साल बचा हुआ है.

राहुल ने ट्विटर पर लिखा कि राजग सरकार के चार साल बीत गए, लेकिन यह किसानों से उनके उत्पादों के बारे में उचित मूल्य के केवल वादे कर रही है.

उन्होंने आरोप लगाए कि सरकार इस दौरान केवल तड़क-भड़क वाली योजनाओं के साथ आगे आई और देश के युवाओं को रोजगार मुहैया नहीं कराया.

उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘चार वर्ष बीत गए, अब भी किसानों से उचित मूल्य के वादे किए जा रहे हैं. चार साल बीत गए, तड़क-भड़क वाली योजनाएं. चार साल बीत गए युवकों को नौकरी नहीं मिली. शुक्र है कि एक साल और बचा हुआ है.

इससे पहले बजट को ‘बिल्कुल हार मान लेने वाला’ और ‘निराशाजनक’ करार देते हुए कांग्रेस ने कहा था कि सरकार ने हथियार डाल दिया है और उसने मान लिया है कि वह अर्थव्यवस्था में अहम मुद्दों का समाधान करने में विफल हुई है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा कि बजट प्रस्ताव ‘साहसिक और क्रांतिकारी’ होने चाहिए थे. उन्होंने कहा, ‘यह बिल्कुल हार मान लेने वाला बजट है.

मैं समझता हूं कि उसने (सरकार ने) हथियार डाल दिया है. यह एक ऐसी सरकार का बजट है जिसने मान लिया है कि वह अर्थव्यवस्था में अहम मुद्दों का समाधान करने में विफल रही है. दुर्भाग्य से बजट प्रस्ताव बड़े निराशाजनक हैं.

Tags
Back to top button