बजट सत्र: राष्ट्रपति कोविंद के 45 मिनट के अभिभाषण पर 75 बार बजीं तालियां

नई दिल्ली: बजट सत्र की शुरुआत पर संसद के केन्द्रीय कक्ष में संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण का आज आम आदमी पार्टी के सांसदों ने बहिष्कार किया। कोविंद का यह पहला अभिभाषण था। हिंदी में उनका यह अभिभाषण लगभग 45 मिनट तक चला और इस दौरान केन्द्रीय कक्ष में 75 बार सदस्यों की मेजों की थपथपाहट और तालियों से गूंजा।

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने राष्ट्रपति के अभिभाषण के पहले एवं अंतिम पैरे का अंग्रेजी अंश पढ़ा। पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा एवं डॉ. मनमोहन सिंह, भाजपा के वरिष्ठतम नेता लालकृष्ण आडवाणी, कांग्रेस संसदीय दल की अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह प्रथम पंक्ति में विराजमान थे। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण दूसरी कतार में बैठीं थी जबकि सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी सबसे आगे की कतार में थीं। ईरानी अपनी सीट पर बैठने से पहले आडवाणी के पास गईं और सम्मान के साथ हाथ मिलाया लेकिन बगल में बैठी सोनिया गांधी को उन्होंने पूरी तरह से नजरअंदाज किया। महाराष्ट्र के दलित नेता रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के अध्यक्ष एवं केन्द्रीय मंत्री रामदास आठवले ने सोनिया गांधी से मुलाकात की।

अभिभाषण समाप्त होने के बाद कोविंद ने अगली पंक्ति में बैठे हुए सभी नेताओं के पास जाकर उनका अभिवादन स्वीकार किया। राष्ट्रपति के प्रस्थान के बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता शरद पवार राहुल गांधी को पुकार कर कई मिनट तक उनसे एक किनारे बात करते रहे। इसी बीच भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के डी. राजा भी उनके पास पहुंच गए और तीनों के बीच कुछ देर तक गुफ्तग़ू होती रही।

1
Back to top button