बैकुण्ठपुर में श्रम मंत्री ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया, ली परेड की सलामी

बैकुण्ठपुर: भारत के गणतंत्र दिवस की 68वीं सालगिरह कोरिया जिले में गरिमामय और हर्शोल्लास से मनायी गयी। जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर में प्रदेश के श्रम,खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री भईयालाल राजवाडे़ ने राष्ट्रीय ध्वज फहराकर परेड की सलामी ली तथा मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह का प्रदेश की जनता के नाम प्रेशित संदेश का वाचन किया।

गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह बैकुण्ठपुर के शासकीय आदर्श रामानुज उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय के मिनी स्टेडियम में सम्पन्न हुई। इस अवसर पर श्री राजवाडे ने प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह और अपने ओर से प्रदेश सहित कोरिया जिले के नागरिकों को गणतंत्र दिवस की बधाई और शुभकामनाएं दी।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री राजवाड़े ने सवेरे 9 बजे समारोह स्थल पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया। ध्वजारोहण के पश्चात मुख्य अतिथि द्वारा गणतंत्र दिवस परेड का निरीक्शण किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर श्री नरेन्द्र कुमार दुग्गा और पुलिस अधीक्शक श्री विवेक शुक्ला भी उनके साथ थे।

श्री राजवाडे़ ने मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह का प्रदेश की जनता के नाम प्रेशित संदेश का वाचन किया। उन्होने मुख्यमंत्री डॉ.सिंह का प्रदेश की जनता के नाम प्रेशित संदेश में कहा कि हमारे देश की स्वतंत्रता, हमारे महान गणतंत्र का आधार है। अतः स्वतंत्रता संग्राम मेें बलिदान देने वाले अमर शहीदों को लेकर लगातार देश की रक्शा कर रहे वीर जवानों तक को सलाम किया। उन्होनें मुख्यमंत्री डॉ.सिंह का प्रदेश की जनता के नाम प्रेशित संदेश में भारत रत्न बाबा सहाब डॉ.भीमराव अम्बेडकर के नेतृत्य में देश के गौरवशाली संविधान का निर्माण किया गया था।

संविधान निर्माण में भी छत्तीसगढ़ की विभूतियों का अमूल्य योगदान रहा। जनता के नाम प्रेशित संदेश में उन्होनें कहा कि इतिहार में पहली बार प्राकृतिक संसाधानों और मूल्यवान खनिजों का धारण करने वाली धरती माता के सहारे जीवन बिताने वाली स्थानीय आबादी के जीवन में आशा की नई किरण जगाई है। डी.एम.एफ के माध्यम से 26 सौ करोड़ रूपए की विकास योजनाओं की मंजूरी इसका जीता जागता प्रमाण है।

किसानों की आय बढ़ाने के लिए 4 लाख 70 हजार कृशि पम्पों को पात्रता अनुसार 7 हजार 500 यूनिट तक एवं अनुसूचित जनजाति तथा अनुसूचित जाति के किसानों को पूर्णतः बिजली दी जा रही है। माननीय प्रधानमंत्री जी ने सहज बिजली हर घर योजना-सौभाग्य के माध्यम से एक वर्श के भीतर सभी घरों में बिजली पहुचाने का लक्श्य देकर उत्साह बढाया। जिसके कारण सितम्बर 2018 तक शेश 5 लाख घरों में बिजली पहुच जायेगी। मेक इन इंडिया के तहत खाद्य प्रसंस्करण, आई.टी, आटो मोबाईल, इंजीनियरिंग, लघु वनोपज उत्पाद, रक्शा उपकरण, विनिर्माण, इलेक्ट्रानिक सेक्टर, नवीकरणीय, उर्जा उपकरण आदि को विशेश प्राथमिकता श्रेणी में रखा गया है।

श्रम मंत्री श्री राजवाड़े ने मुख्यमंत्री डॉ.सिंह का प्रदेश की जनता के नाम प्रेशित संदेश में कहा कि प्रदेश की नदियों को आपस में जोडने की अत्यंत महत्वाकांक्शी योजना के तहत महानदी-तांदुला, पैरी-महानदी, रेहर-अटैम, अहिरन-खारंग, हसदेव-केवई आदि लिंक परियोजनाओं को चिन्हाकिंत किया गया है। स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत निःशुल्क उपचार हेतु दी जाने वाली राशि 30 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रूपये कर दी गई है।

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत 35 लाख लक्श्य के विरूद्व अल्पकाल में ही 18 लाख परिवारों को रसोई गैस कनेक्शन उपलब्ध कराते हुए धुआं और आंख दर्द से छुटकारा दिलाया है। खाद्य एवं पोशण सुरक्शा को लेकर हमार अभियान प्रदेश की 82 प्रतिशत आबादी अर्थात 2 करोड़ 10 लाख जनसंख्या तक पहुंच गया है। मुख्यमंत्री डॉ.सिंह का प्रदेश की जनता के नाम प्रेशित संदेश में श्रम मंत्री श्री राजवाड़े ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने लालकिले की प्राचीर से स्वच्छ भारत बनाने का आव्हान किया था, उसे समय के पहले पूरा करने वाले राज्यों में छत्तीसगढ़ अग्रणी रहेगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ग्रामीण क्शेत्र में 6 लाख 68 हजार आवास बनाने का लक्श्य है। जिसमें से अब तक 2 लाख 16 हजार आवास बनाए जा चुके है। छत्तीसगढ़ में शिक्शा के माध्यम से नई पीढ़ी के निर्माण का अभियान जोर-शोर से चल रहा है। शाला कोश योजना के अंतर्गत समस्त शालाओं को टैब प्रदान किया जा रहा है। जिससे विद्यार्थियों की उपस्थिति तथा योजनाओं की मानीटरिंग की जायेगी।

छात्र दुर्घटना बीमा योजना के तहत बीमित राशि 10 हजार रूपये से बढाकर एक लाख रूपये कर दिया गया है। मुख्यमंत्री डॉ.सिंह का प्रदेश की जनता के नाम प्रेशित संदेश में श्रम मंत्री श्री राजवाड़े ने कहा कि राज्य की खेल नीति जारी कर दी गई है। राज्य में विकास और खुशहाली की इबारत लिखते समय उसमें श्रम कल्याण का ध्यान भी प्राथमिकता से रखा गया है। हाल ही में पं. दीनदयाल श्रम अन्न सहायता योजना के अंतर्गत चावड़ी में केन्द्र स्थापित करते हुए मात्र 5 रूपए में गरम पौश्टिक भोजन देने की व्यवस्था रायपुर मेें शुरू की गई है।

इस योजना का विस्तार अन्य जिलों में शीध्र किया जायेगा। उन्होनें कहा कि हमारे प्रदेश में कोई क्शेत्र पहुंचविहीन नही रहेगा और न ही कोई अंचल आर्थिक अथवा क्शेत्रीय असमान्ता का शिकार होगा, यह सुनिश्चित करने के लिए एक बड़ी व्यापक कार्ययोजना अपनाई गई है। मुख्यमंत्री डॉ.सिंह का प्रदेश की जनता के नाम प्रेशित संदेश में श्रम मंत्री श्री राजवाड़े ने कहा कि छत्तीसगढ़ को देश का सबसे उन्नत, विकसित और खुशहाल राज्य बनाने से कोई भी ताकत रोक नही पाएगी।

श्रम मंत्री श्री राजवाडे ने संदेश वाचन के बाद मंच से शांति के प्रतीक श्वेत कपोत और तिरंगे के प्रतीक रंग-बिरंगे गुब्बारें आकाश में छोड़े। इसके बाद परेड में शामिल जिला पुलिस बल, जिला पुलिस महिला बल और जिला नगर सेना की सशस्त्र टुकडियांे द्वारा हर्शफायर कर राष्ट्रीय तिरंगे को सलामी दी गयी ।

कार्यक्रम की अगली कड़ी में परेड कमांडर श्री दाउद खलखो व परेड टू आईसी श्री महेश्वर साय पैकरा के नेतृत्व में जिला पुलिस बल, महिला पुलिस बल और नगर सेना की शस्त्र टुकडियों सहित विभिन्न विद्यालयों के एन.सी.सी, स्काउट और गाईड के कुल 17 प्लाटूनों ने देशभक्ति धुनों पर कदम से कदम मिलाते हुए आकर्शक मार्चपास्ट का प्रदर्शन किया और राष्ट्रीय तिरंगे व मुख्य अतिथि को पूरे जोश और उत्साह के साथ सलामी दी।

कार्यक्रम के अगले चरण में स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मन का संदेश देते नगर के 14 विभिन्न विद्यालयों के 900 स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा एक लय में सामूहिक व्यायाम का प्रदर्शन किया गया। इसी कड़ी में डॉ.अमित अग्निहोत्री के मार्गदर्शन में योग आसान को रेखाकिंत करते हुए गुरूकुल इंटर नेशनल स्कूल लाई, सरस्वती शिशु मंदिर चिरमिरी और महर्शि कॉलेज बैकुण्ठपुर के छात्र-छात्राओं ने योग का प्रदर्शन कर सबका मन अपनी ओर आकर्शित किया।

समारोह के तीसरे चरण में स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा देश प्रेम, भाईचारा और एकता में अनेकता के मोती पिरोय देशभक्ति और लोकगीत के रंग में रगें सांस्कृतिक कार्यक्रमों की मनोहारी प्रस्तुतियां दी गयी। इनमें शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय महलपारा, सेन्ट जोसेफ हाईस्कूल रामपुर, शासकीय आदर्श कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैकुण्ठपुर, जवाहर नवोदय विद्यालय बैकुण्ठपुर, शासकीय मॉडल उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैकुण्ठपुर, आदर्श सरस्वती उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैकुण्ठपुर के छात्र-छात्राओं का समूह नृत्य शामिल है। गणतंत्र दिवस के मौके पर राज्य शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं पर आधारित 18 विभागों की झांकियां लोगों के आकर्शण का केन्द्र रही।

मुख्य अतिथि द्वारा कार्यक्रम की अंतिम कड़ी में मार्चपास्ट, सांस्कृतिक कार्यक्रमों और झांकियों की उत्कृश्ट प्रस्तुति के लिए संबंधित संस्थाओं को पुरस्कृत किया गया। मार्च पास्ट में सशस्त्र दल (परेड सीनियर) की उत्कृश्ट प्रस्तुति पर प्रथम स्थान ,,छत्तीसगढ सशस्त्र बल,, और द्वितीय स्थान ,,जिला पुलिस बल,, को प्राप्त हुआ। मार्च पास्ट शालेय दल (परेड जूनियर) की उत्कृश्ट प्रस्तुति में शासकीय आदर्श रामानुज उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैकुण्ठपुर एनसीसी (सीनियर) को प्रथम स्थान, जवाहर नवोदय विद्यालय बैकुण्ठपुर (गाईडस) को द्वितीय स्थान और शासकीय आदर्श कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैकुण्ठपुर (गाईडस) को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति पर प्रथम पुरस्कार शासकीय मॉडल उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैकुण्ठपुर, द्वितीय पुरस्कार आदर्श सरस्वती उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैकुण्ठपुर और तृतीय पुरस्कार शासकीय आदर्श कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैकुण्ठपुर को प्रदान किया गया।

मुख्य अतिथि श्री राजवाडे़ ने जिले में निवासरत शहीद अधिकारी/कर्मचारी के आश्रितों को भी श्रीफल और शाल प्रदान कर सम्मानित किया। कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि ने दंतेवाडा़ जिला में नक्सली मुठभेड़ में शहिद स्व0. बृजभूशण श्रीवास्तव की पत्नी श्रीमति सरोज श्रीवास्तव, सुकमा जिला में नक्सली मुठभेड में शहीद स्व हुसनैन अंसारी के पिता श्री मो0 समसीर अंसारी और बीजापुर जिला में नक्सली मुठभेड़ में शहीद स्व0 राजेश पटेल के पिता श्री चन्द्रशेखर पटेल एवं कांकेर जिला के शहीद स्व0 संतोश एक्का उप निरीक्शक की पत्नी श्रीमति रंजीता एक्का तथा कांकेर जिला मंे नक्सली मुठभेड में बीएसएफ के आरक्शक शहीद स्व. श्री हरिकेश प्रसाद के चाचा श्री रामआश्रय को साल व श्रीफल देकर सम्मनित किया। कार्यक्रम में श्रम मंत्री श्री राजवाड़े ने लोकतंत्र सेनानी श्री द्वारिक प्रसार गुप्ता, डॉ.निर्मल कुमार घोस, श्री प्रेमनारायण और श्रीमती चन्द्रवती उपाध्याय को भी श्रीफल और शाल प्रदान कर गौरवान्वित किया।

मुख्य अतिथि श्री राजवाडे ने राज्य शासन की कल्याणकारी योजनाओं पर आधारित विभागीय झांकी में मुख्यमंत्री कौशल योजना के तहत 14 वर्श से 45 वर्श के आयु समूह के युवाओं को प्रशिक्शण प्रदान कर स्वरोजगार जोड़ने के लिए जिला कौशल विकास को प्रथम पुरस्कार प्रदान किया। इसी तरह भारत एवं राज्य सरकार की अति महत्वकांक्शी योजना राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान की सजीव झ्ााकी और गरीब महिलाओं का समपूर्ण सकारात्मक विकास को रेखांकित करने वाली जिला पंचायत की झ्ााकी को द्वितीय पुरस्कार तथा बेटी बचाओं और बेटी पढाओं तथा बेटियों की सुरक्शा एवं संवर्धन पर आधारित महिला एवं बाल विकास विभाग की झ्ााकी को तृतीय पुरस्कार प्रदान किया।

इस मौके पर मुख्य अतिथि श्री राजवाडे ने 2017-18 में राष्ट्रीय शालेय क्रीडा प्रतियोगिता के तहत बालिका टेनिस किक्रेट प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक प्राप्त करने पर शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कटगोडी़ की कुमारी प्रीति राजवाड़े, शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला लटमा के कुमारी जंयती राजवाड़े, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय संुदरपुर की कुमारी तारा, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सारा की कुमारी सरस्वती और डॉज बाल प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक प्राप्त करने पर कुमारी नीलू मिंज एवं ड्रापरोबॉल प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक प्राप्त करने करने पर श्री नवीन कुमार सम्मानित किया गया।

इसी क्रम में ग्रामीण विकास विभाग की योजनाओं का उत्कृश्ट क्रियान्वयन पर जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती तुलिका प्रजापति, प्रशासकीय दायित्व का निश्ठा पूर्वक निवर्हन करने पर अपर कलेक्टर श्री आर.ए.कुरूवंशी, पंच सरपंच का उन्नमुखीकरण कर ग्रामीण स्तर पर प्रशासन को सशक्त करने पर जनपद पंचायत बैकुण्ठपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अपूर्व टोप्पों, वित्तीय लेन-देन का ऑनलाईन भुगतान समय पर करने के लिए जिला कोशालय अधिकारी श्री मनोज तिवारी, पौधारोपण में उत्कृश्ट कार्य करने के लिए सहायक संचालक उद्यान श्री के.एस. पैकरा, कोसा उत्पादन में उत्कृश्ट स्थान बनाने पर सहायक संचालक रेशम श्री आर.एस. सोलंकी, कौशल विकास योजना के तहत उल्लेखनीय कार्य करने पर जिला कौशल विकास प्राधिकरण के सहायक संचालक श्री उमेश जायसवाल, शासकीय योजनाओं उत्कृश्ट प्रचार-प्रसार करने के लिए जनसम्पर्क विभाग के सहायक संचालक श्री एस.आर.लहरे सहित जिला प्रशासन के 19 अधिकारी-कर्मचारियों को प्रमाण पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में पुलिस विभाग में उत्कृश्ट कार्य करने पर सर्वश्रेश्ठ थाना के लिए प्रथम पुरस्कार थाना प्रभारी मनेन्द्रगढ़ के निरीक्शक श्री विमलेश दुबे, द्वितीय पुरस्कार थाना प्रभारी झ्ागराखाण्ड के उप निरीक्शण राकेश यादव और अंतर्राज्यीय गिरोह के आरोपियों को गिरफ्तार करने तथा उत्कृश्ट कार्य करने पर प्रभारी क्राईम स्कवॉड के उप निरीक्शक श्री शिवेन्द्र राजपूत सहित 12 अधिकारी-कर्मचारियों को सम्मानित किया गया। इसी क्रम में विभिन्न विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों को भी उत्कृश्ट कार्य करने, निश्ठापूर्वक कर्तव्य निर्वहन करने, समन्वय स्थापित करने आदि कार्यो के लिए विभिन्न विभागों के अधिकारियो-कर्मचारियों को पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया और उनका हौसला बढाया गया। इसी तरह साक्शर भारत कार्यक्रम में उल्लेखनीय कार्य करने पर सोनहत के परियोजना अधिकारी श्री कृश्ण कुमार गुप्ता, ग्राम पंचायत रामगढ़ के सचिव श्री कैलाश गुप्ता, स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय निर्माण एवं उत्कृश्ट कार्य करने पर विकासखण्ड बैकुण्ठपुर के ग्राम पंचायत उमझ्ार, विकासखण्ड सोनहत के ग्राम पंचायत ओदारी, विकासखण्ड खड़गवां के ग्राम पंचायत गढतर, विकासखण्ड मनेन्द्रगढ़ के ग्राम पंचायत शिवगढ़ और विकासखण्ड भरतपुर के ग्राम पंचायत बेलगांव के सरपंच को पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया गया। इसी क्रम में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत आर्थिक गतिविधियों के सफलता पूर्वक क्रियान्वयन पर विकासखण्ड बैकुण्ठपुर के ग्राम पंचायत नगर के मॉ लक्श्मी स्व.सहायता समूह, ग्राम पंचायत उमझ्ार के मॉ वैश्णों स्व.सहायता समूह, विकासखण्ड सोनहत के ग्राम पंचायत रामगढ़ के वैश्णों महिला स्व.सहायता समूह, ग्राम पंचायत बंशीपुर के शिवशक्ति स्व.सहायता समूह और विकासखण्ड खड़गवां के ग्राम पंचायत सेंधा के लक्श्मी स्व.सहायता समूह, विकासखण्ड भरतपुर के ग्राम जनकपुर की मॉ महामाया स्व.सहायता समूह और प्रेरणा स्व.सहायता समूह को भी सम्मानित कर गौरवान्वित किया गया। इसी तरह महिलाओं से संबंधित अपराध एवं परिवारिक मामलों के काउन्सलरों और चिकित्सा के क्शेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले खण्ड चिकित्सा अधिकारी, मितानिन, स्टॉप नर्स को भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री विजय कुमार एक्का, मुख्य न्यायिक मजिस्टेट श्री नीरज शर्मा, जिला पंचायत की अध्यक्श श्रीमती कलावती मरकाम, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती तुलिका प्रजापति, अपर कलेक्टर द्वय श्री आर.ए.कुरूवंशी, श्रीमती रीता यादव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्शक श्रीमती निवेदिता पॉल शर्मा, बैकुण्ठपुर वनमंडल के वनमण्डाधिकारी श्री इमो तेन्सू अउ, बैकुण्ठपुर अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री अरूण कुमार मरकाम, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एस.एस.पैकरा, जिला शिक्शा अधिकारी श्री राकेश पाण्डेय, महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री चन्द्रवेश सिसोदिया, जिला सेनानी नगर सेना के श्री निकोलस खलखो सहित जिला एवं पुलिस प्रशासन के वरिश्ठ अधिकारी, वरिश्ठ नागरिकों, जनप्रतिनिधियों, मीडिया के प्रतिनिधिगण, शिक्शक-शिक्शिकाएं और बड़ी संख्या में शालेय छात्र-छात्राएं तथा नगरवासी मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन जिला लोक शिक्शा समिति के जिला परियोजना अधिकारी श्री उमेश जायसवाल, पंचायत शिक्शक सुश्री सुमन नायक और जिला जिले की शिक्शिका सुश्री विवेक सिद्दकी ने किया।

1
Back to top button