भारतीय समाज में लोकतंत्र ने भरे आस्था और विश्वास के नये रंग: डॉ. रमन सिंह

रायपुर: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर जनता को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी है। डॉ. सिंह ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर आज यहां जारी शुभकामना संदेश में कहा है कि 15 अगस्त 1947 को आजादी के बाद आज ही के दिन वर्ष 1950 में पूरे देश में हमारे महान भारतीय संविधान की स्थापना हुई, जिसकी बुनियाद पर भारत को दुनिया के महान लोकतंत्र के रूप में पहचान और प्रतिष्ठा मिली है।

मुख्यमंत्री ने कहा – आजादी के लिए लम्बे संघर्षों में जिन सेनानियों और महान विभूतियों ने अपना पूरा जीवन न्यौछावर कर दिया, यह उनकी ही कठिन तपस्या का परिणाम है कि आज हम लोकतंत्र की खुली हवा में सांस ले रहे हैं। डॉ. रमन सिंह ने कहा -हमें इस बात का गर्व है कि विविधता में एकता पर आधारित हमारे भारतीय समाज में लोकतंत्र ने आस्था और विश्वास के नये रंग भरे हैं।

उन्होंने कहा – हालांकि आज हमारे लोकतंत्र के सामने नक्सलवाद और आतंकवाद जैसी गंभीर चुनौतियां भी है, लेकिन जनता की ताकत के बल पर बहुत जल्द देश को नक्सलवाद और आतंकवाद से मुक्ति दिलाने में हमारा लोकतंत्र जरूर सफल होगा। डॉ. सिंह ने कहा- यह देश के संविधान और लोकतंत्र का ही असर है कि आज भारत ज्ञान-विज्ञान, शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, सिंचाई, सड़क, रेल और विमान तथा संचार कनेक्टिविटी सहित विकास के हर क्षेत्र में नई बुलंदियों को छू रहा है। छत्तीसगढ़ भी इस दिशा में देश के सभी राज्यों के साथ आगे बढ़ रहा है।

उन्होंने कहा – राज्य निर्माण के विगत 17 वर्षाें में छत्तीसगढ़ ने भारत के सर्वाधिक तेज गति से विकसित हो रहे राज्य के रूप में अपनी पहचान बनाई है। मुख्यमंत्री ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर किसानों, मजदूरों, आम नागरिकों, छात्र-छात्राओं, शिक्षकों, डॉक्टरों, इंजीनियरों, साहित्यकारों, कलाकारों और शासकीय कर्मचारियों-अधिकारियों सहित समाज के सभी वर्गों के लिए तरक्की और खुशहाली की कामना की है।

1
Back to top button