भारत में अपनी गतिविधियों की जांच करेगी कैंब्रिज एनालिटिका

लंदनः ब्रिटेन में फर्जी खबर मामले की जांच में फंसी कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका ने कहा कि भारत समेत दुनिया भर में वह अपनी गतिविधियों की जांच करेगी और उसकी जानकारी देगी। कंपनी के एक प्रवक्ता ने कल कहा कि कैंब्रिज एनालिटिका मुख्यत: अमेरिकी बाजार पर केंद्रित है जबकि उसकी इकाई एससीएल एलेक्शंस अन्य क्षेत्रों का कारोबार संभालती है।

प्रवक्ता ने एक संवाददाता सम्मेलन में कल कहा कि सभी राष्ट्रीय मुद्दे और राष्ट्रीय सबंधों को स्वतंत्र रूप से कराई जा रही जांच में अनिवार्य रूप से शामिल किया जाएगा। निश्चिंत रहिए कि भारत, केन्या, नाईजीरिया समेत उन सभी देशों में जहां एससीएल ने काम किया है कि जांच की जाएगी और स्वतंत्र जांच के तहत उनकी सूचना दी जाएग।

यह संवाददाता सम्मेलन ऐसे समय में किया गया जब कंपनी से जुड़़े विद्वान एलेंक्जैंडर कोगन ने ब्रिटेन की संसद की डिजिटल, संस्कृति, मीडिया और खेल समिति को फर्जी खबर की जांच से अवगत कराया है। कोगन की कंपनी ग्लोबल साइंस रिसर्च ने एक फेसबुक एप्प बनाया था।

इस एप्प का इस्तेमाल इसका उपयोग करने वाले फेसबुक से जुड़े लोगों और उनकी फेसबुक मित्र मंडली के लोगों की सूचनाएं उनसे बिना स्वीकृति लिए जुटाने में इस्तेमाल किया गया। कोगन ने कैंब्रिज एनालिटिका के निलंबित मुख्य कार्यकारी अधिकारी एलैक्जेंडर निक्स के इस बयान को बिल्कुल बरगलाने वाला बताया जिसमें उन्होंने जीएसआर से कोई संबंध न होने की बात की थी।

advt
Back to top button