मप्र में 2 और किसानों ने की खुदकुशी, 17 दिन में 29 मरे

भोपाल, (वीएनएस/आईएएनएस)| मध्यप्रदेश में किसान आत्महत्या का सिलसिला थम नहीं रहा है। राज्य में दो और किसानों ने आत्महत्या कर ली। बीते 17 दिनों में 29 किसान अपनी जान दे चुके हैं। धार जिले के टांडा थाना क्षेत्र के चुनप्पा गांव के किसान बिलम सिंह (46) ने सोमवार की देर रात फांसी के फंदे से लटककर आत्महत्या कर ली। उसने बेटे की शादी के लिए एक सूदखोर से कर्ज लिया था और उसके एवज में चांदी के गहने गिरवी रखे थे। उस पर सहकारी समिति का भी कर्ज था।
टांडा थाने के प्रभारी विजय बास्कले ने बुधवार को आईएएनएस को बताया कि पहले परिवार के सदस्यों ने आत्महत्या का कारण नशे की आदत बताया, उसके बाद उन्होंने बयान दर्ज कराया कि बिलम सिंह ने कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
इसी तरह खरगोन के बिस्टान थाना क्षेत्र के मोगरगांव में कर्ज से परेशान किसान शंकर (35) मंगलवार को जब अपने खेत पर था, वहीं गिरकर बेहोश हो गया और उसकी मौत हो गई। अंदाजा लगाया जा रहा है कि उसने कीटनाशक पी लिया होगा।
थाना प्रभारी आनंद चौहान ने कहा, `किसान शंकर की मौत हुई है, लेकिन मौत का कारण कोई स्पष्ट तौर पर नहीं बता पा रहा है। उसके परिजनों ने भी कुछ नहीं बताया है।`

Back to top button