महिलाओं की जागृति ही जागरूक समाज की पहचान : डॉ. रमन सिंह

रायपुर:मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि महिलाओं की जागृति ही जागरूक समाज की पहचान है। डॉ. सिंह आज दुर्ग जिले के उतई नगर स्थित दानवीर तुलाराम महाविद्यालय में आयोजित संभागीय कोसरिया यादव समाज के महाधिवेशन को संबोधित कर रहे थे।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उतई क्षेत्र को कई बड़ी सौगातें दी। मुख्यमंत्री ने शासकीय तुलाराम महाविद्यालय में स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम शुरु करने और ग्राम मचांदुर में नया शासकीय महाविद्यालय प्रारंभ करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने समाज की मांग पर उतई में यादव सामाजिक भवन के लिए 15 लाख रूपए और दुर्ग में संचालित यादव छात्रावास में दो अतिरिक्त कक्ष निर्माण के लिए 10 लाख रूपए की स्वीकृति की घोषणा की। इस अवसर पर समाज के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री को खुमरी पहनाकर उनको सम्मानित किया।

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि सम्मेलन में महिलाओं की बड़ी संख्या में भागीदारी को देखकर प्रसन्नता हो रही है। यह यादव समाज की जागरूकता की पहचान है। उन्होंने कहा कि जिस समाज में महिलाएं जागरूक होती है, वह सभी समाज का नेतृत्व करता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यादव समाज कृष्ण भगवान का उपासना करने वाला समाज है। भगवान कृष्ण के आशीर्वाद से यादव समाज आगे बढ़ रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज के विकास के लिए सामाजिक बुराईयों, कुप्रथा, नशा-पान, दहेज प्रथा जैसे कुरीतियों को दूर करना आवश्यक है। इसके साथ ही समाज के विकास के लिए बेटों के साथ ही बेटियों को भी शिक्षित करना समाज की जवाबदारी है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के विकास में यादव समाज का भी महत्वपूर्ण योगदान है। छत्तीसगढ़ सरकार सर्व समाज के लिए योजना बनाकर उन्हें आगे बढ़ाने का कार्य कर रही है।

मुख्यमंत्री ने केन्द्र एवं राज्य सरकार के द्वारा संचालित अनेक योजनाओं का लाभ लेने के लिए समाज को जागरूक होने और योजनाओं का लाभ लेकर आगे बढ़ने की समझाईश दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुर्ग जिला शिक्षित जिला है और यहां के निवासी जागरूक है। दुर्ग जिले में कामधेनु विश्वविद्यालय की स्थापना की गयी है। यह विश्वविद्यालय पशुपालन, डेयरी, दुग्ध उत्पादन को प्रोत्साहित करता है।

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा दुग्ध उत्पादन और गाय पालन को बढ़ावा देने के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए पशुपालन, कृषि, डेयरी को मजबूत बनाना होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गौठान समतलीकरण का कार्य मनरेगा के तहत कराया जा रहा है। पशुपालकों और चरवाहों को असंगठित कर्मकार कल्याण मंडल में पंजीयन कर लाभान्वित किया जा रहा है।

इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रमशीला साहू ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार सबका साथ, सबका विकास के लिए योजनाबद्ध तरीके से कार्य कर रही है। उन्होंने समाज में जागृति लाने और विकास के लिए बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने पर जोर दिया। इस अवसर पर राजस्व मंत्री श्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय, संसदीय सचिव श्री लाभचंद बाफना, अहिवारा विधायक श्री सांवला राम डाहरे, पूर्व मंत्री श्री हेमचंद यादव, पूर्व सांसद सुश्री सरोज पाण्डेय, यादव समाज के प्रदेश अध्यक्ष श्री राधे लाल यादव, संभागाध्यक्ष श्री बोधन यादव सहित समाज के अनेक प्रतिनिधि और सदस्य बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

advt
Back to top button