राष्ट्रीय

मारपीट केस : अमानतुल्लाह और जरवाल को हुई 14 दिन की जेल, कल फिर होगी सुनवाई

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश से मारपीट केस में दोनों आरोपी विधायकों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। कोर्ट ने अमानतुल्लाह खान और प्रकाश जरवाल को 14 दिन के लिए जेल भेज दिया है। बता दें कि पुलिस रिमांड और जमानत पर अदालत में कल दोबारा सुनवाई होगी। दिल्ली पुलिस ने दोनों विधायकों की पुलिस रिमांड मांगी है।

थप्पड़कांड के आरोपी दोनों विधायकों की आज कोर्ट में पेशी हुई है। आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान और प्रकाश जारवाल पर दिल्ली के मुख्य सचिव से मारपीट का आरोप है। इस बीच पूरे मामले में एक और ट्विस्ट आ गया है। केजरीवाल के सलाहकार वीके जैन का 164 के तहत बयान दर्ज हुआ है। हमारे चैनल इंडिया टीवी को मिली जानकारी के मुताबिक वीके जैन के पुलिस और मजिस्ट्रेट के सामने दिए बयान में फर्क है। दिल्ली पुलिस ने वीके जैन के बयान की कॉपी अदालत में पेश कर दी है।

बता दें कि दोनों विधायकों को कल तीस हजारी कोर्ट ने एक दिन की न्यायिक हिरासत पर तिहाड़ जेल भेज दिया था। कल पेशी के दौरान दिल्ली पुलिस ने दोनों विधायकों के रिमांड की मांग की थी लेकिन कोर्ट ने पुलिस रिमांड देने से इनकार कर दिया था ऐसे में सबकी नजर अब कल होने वाली कोर्ट की सुनवाई पर है। क्या पेशी के बाद इन दोनों विधायकों को एक बार फिर तिहाड़ जाना होगा या फिर इन्हें जमानत मिल जाएगी?

वहीं, दिल्ली सरकार के कर्मचारी ‘अपनी सुरक्षा और गरिमा सुनिश्चित करने के लिए जरूरी कदम उठाए जाने तक’ हर रोज अपने कार्यालयों के बाहर पांच मिनट का मौन धारण करेंगे। आईएएस एसोसिएशन ने गुरुवार को यह ऐलान किया।

दोपहर के भोजन के अंतराल के दौरान मौन धारण कर विरोध जताने का यह निर्णय दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर आम आदमी पार्टी (AAP) के दो विधायकों द्वारा कथित हमला करने के बाद किया गया है। प्रकाश ने आरोप लगाया था कि आप विधायकों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की उपस्थिति में उनके साथ मारपीट की।

मुख्यमंत्री आवास पर सोमवार रात यह कथित हमला हुआ जहां प्रकाश को आपात बैठक के लिए बुलाया गया था। आईएएस एसोसिएशन ने मंगलवार को कहा था कि नौकरशाह केजरीवाल और उनके मंत्रियों या विधायकों से तबतक नहीं मिलेंगे, या फोन पर बात नहीं करेंगे, जब तक केजरीवाल इस घटना के लिए माफी नहीं मांगते।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *