मुख्यमंत्री जनदर्शन और मुख्यमंत्री निवास के लंबित आवेदन पत्रों को अविलंब निराकृत करने के निर्देश

कोरिया : कलेक्टर श्री नरेन्द्र कुमार दुग्गा की अध्यक्षता में आज यहाॅ जिला कलेक्ट्रोरेट के सभाकक्ष में साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में श्री दुग्गा ने वर्शा ऋतु में वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम, बाढ एवं आपदा प्रबंधन, माडल स्कूलों का संचालन, मौसमी बीमारियों से बचाव, राजस्व प्रकरणों, कौषल उन्नयन, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, सार्वजनिक वितरण प्रणाली, खाद-बीज का भण्डारण, स्वच्छ भारत मिषन, आबादी भूमि का पटटा, विभिन्न योजनाओं में आधार सीडिंग आदि कार्यो की प्रगति की विस्तार पूर्वक समीक्षा की। बैठक में श्री दुग्गा ने मुख्यमंत्री जनदर्षन और मुख्यमंत्री निवास में प्राप्त आवेदन पत्रों की विस्तारपूर्वक समीक्षा की। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री जनदर्षन और मुख्यमंत्री निवास में प्राप्त आवेदन पत्र महत्वपूर्ण होते है। जिसकी लगातार मानीटरिंग की जा रही है। उन्होने मुख्यमंत्री जनदर्षन और मुख्यमंत्री निवास में लंबित आवेदन पत्रों को अविलंब निराकृत करने के निर्देष दिये। इसी तरह उन्होने आदिम जाति सहकारी समिति में किसानों के लिए खाद बीज की भण्डारण और वितरण की भी जानकारी प्राप्त की। उन्होने कहा कि किसानों के लिए सहकारी समितियों में पर्याप्त मात्रा में खाद बीज का भण्डारण किया गया है। किसानों को खाद बीज के लिए किसी भी प्रकार की परेषानी नहीं होनी चाहिए। यदि किसानों द्वारा खाद बीज नहीं मिलने की जानकारी दी जाती है, तो संबंधित समितियों के विरूध्द सख्त अनुषासनात्मक कार्यवाही करने की बात कही। बैठक में श्री दुग्गा ने राश्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम के तहत पेंषनरों की संख्या आदि के संबंध में जानकारी प्राप्त की। बैठक में उन्होने कहा कि राश्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम के तहत इंदिरा गांधी राश्ट्रीय वृध्दा वस्था पेंषन, इंदिरा गांधी राश्ट्रीय विधवा पेंषन और इंदिरा गांधी राश्ट्रीय दिव्यांग पेंषन के पेंषनरों के आधार सीडिंग के प्रगति की समीक्षा की। उन्होने इन राश्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम के तहत षत-प्रतिषत पेंषनरों का आधार सीडिंग करने और आधार सीडिंग की भौतिक सत्यापन करने के निर्देष दिये।
बैठक में श्री दुग्गा ने चालू मानसून के दौरान हरिहर छत्तीसगढ योजना के तहत माह जुलाई और अगस्त में किये जाने वाले वृक्षारोपण के संबंध में की गई तैयारी की जानकारी प्राप्त की। उन्होने कहा कि माह जुलाई और अगस्त में वृहद स्तर पर वृक्षारोपण का कार्य किया जायेगा। चिंहांकित षासकीय भूमि के अलावा षासकीय कार्यालयों में भी वृक्षारोंपण किया जायेगा। उन्होने कहा कि जिले में ब्लाक प्लांटेषन कार्यक्रम के तहत तीन सौ हेक्टेयर क्षेत्र में वृक्षारोपण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। ब्लाक प्लांटेषन कार्यक्रम के तहत फलदार, छायादार और व्यावसायिक एवं उद्यानिकी पौधे लगाये जायेंगे। बैठक में श्री दुग्गा ने मौसमी बीमारियों की रोकथाम के संबंध में की गई तैयारी के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की। उन्होने मौसमी बीमारी की रोकथाम के लिए गांव में जनजागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने के भी निर्देष दिये। बैठक में श्री दुग्गा ने राजस्व विभाग मे लंबित और निराकृत प्रकरणेां की जानकारी प्राप्त की। उन्होने लंबित प्रकरणों को यथाषीघ्र निराकृत करने के निर्देष दिये। बैठक में श्री दुग्गा ने मुख्यमंत्री कौषल विकास योजना की भी समीक्षा की। उन्होने कौषल विकास योजना के तहत युवाओं को कृशि के क्षेत्र में प्रषिक्षित करने के निर्देष दिये। इसी तरह उन्होने श्रम विभाग की संचालित योजनाओं की जानकारी प्राप्त की। उन्होने संगठित और असंगठित क्षेत्र में पंजीकृत सभी श्रमिकों का प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना और प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत बीमा कराने के निर्देष दिये। बैठक में श्री दुग्गा ने लोक सेवा केंद्र में समय सीमा के बाद लंबित आवेदन पत्रों की समीक्षा की। उन्होने समय सीमा के बाद लंबित आवेदन पत्रों का यथाषीघ्र निराकृत करने के निर्देष दिये। इसी तरह उन्होने स्वच्छ भारत मिषन के तहत निर्मित और निर्माणाधीन षौचालयों की प्रगति की जानकारी प्राप्त की। उन्होनें खुले में षौच मुक्त नहीं होने वाले नगरीय निकायों को आगामी माह जुलाई तक खुले में षौच मुक्त करने के लिए संबंधित मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को निर्देष दिये। इस अवसर पर जिले के पुलिस अधीक्षक श्री सुजीत कुमार, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती तुलिका प्रजापति, अपर कलेक्टर द्वय श्री ज्योति प्रकाष कुजूर, श्री आर.ए.कुरूवंषी, सभी अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी, सभी जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं नगरीय निकायों सभी मुख्य नगर पालिका अधिकारी उपस्थित थे।

Back to top button