मुख्यमंत्री ने की कम्पोजिट इन सर्विस ट्रेनिंग सेन्टर की घोषणा

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज सवरेे राजधानी रायपुर के नजदीक छत्तीसगढ़ राज्य पुलिस अकादमी चंदखुरी में राज्य पुलिस सेवा संवर्ग के प्रशिक्षित उप पुलिस अधीक्षकों दीक्षांत समारोह मंे शामिल हुए। उन्होंने परेड की सलामी ली। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर राज्य पुलिस अकादमी में कम्पोजिट इन सर्विस ट्रेनिंग सेन्टर की स्थापना की घोषणा की। डॉ. सिंह ने प्रशिक्षण लेकर कार्यक्षेत्र में जा रहे नये उप पुलिस अधीक्षकों को प्रमाण-पत्र प्रदान करते हुए बधाई और शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर गृहमंत्री श्री रामसेवक पैकरा, रायपुर के लोकसभा सांसद श्री रमेश बैस, गृह विभाग के संसदीय सचिव श्री लाभचंद बाफना, आरंग के विधायक श्री नवीन मारकण्डेय और प्रदेश के पुलिस महानिदेशक श्री ए.एन.उपाध्याय भी उपस्थित थे।
मुख्य अतिथि की आसंदी से दीक्षांत परेड समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा- समाज, राज्य और देश की आतंरिक सुरक्षा में पुलिस बल की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होती है। डॉ. सिंह ने उम्मीद जताई कि यहां दिए गए प्रशिक्षण से पुलिस बल के अधिकारी आगे हर चुनौती से निपटने में सक्षम होंगे और अपने दायित्वों का बेहतर ढंग से निर्वहन करेंगे। गृहमंत्री श्री रामसेवक पैकरा और पुलिस महानिदेशक श्री ए.एन.उपाध्याय ने भी दीक्षांत परेड समारोह को सम्बोधित किया। गृहमंत्री श्री पैकरा ने अपने उदबोधन में कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में राज्य में जन-जीवन की सुरक्षा के लिए पुलिस बल को सभी जरूरी संसाधन दिए जा रहे हैं। पुलिस बल की संख्या 70 हजार से अधिक हो गयी है। प्रदेश के शांतिपूर्ण विकास में पुलिस बल का भी योगदान उल्लेखनीय है। पुलिस महानिदेशक श्री ए.एन.उपाध्याय ने कहा कि पुलिसिंग वास्तव में समाज सेवा और राष्ट्र सेवा है। श्री उपाध्याय ने कहा कि राज्य पुलिस के अधिकारी और जवान पूरी मुस्तैदी से अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं।
राज्य पुलिस अकादमी की प्रभारी निदेशक श्रीमती सोनल व्ही.मिश्रा ने प्रतिवेदन में बताया कि अकादमी के छठवें सत्र में जिन 18 प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षकों का प्रशिक्षण अप्रैल 2016 से शुरू हुआ था, जो आज मुख्यमंत्री के मुख्य आतिथ्य में उनके दीक्षांत परेड के साथ सम्पन्न हुआ।

Back to top button