छत्तीसगढ़

यहां सूअर खा जाते है बच्चों का मिड डे मील

श्योपुर. श्योपुर जिला मुख्यालय के सरकारी स्कूलों में जब भी बच्चे मध्यान्ह भोजन करते हैं तो, सूअर स्कूल में घुस जाते हैं। जहां बच्चे खाना खाते हैं वहां, आस-पास सूअर मंडराते रहते हैं। कई बार ऐसा भी हुआ कि, खाना खा रहे बच्चों की थाली तक को सूअर खींच ले गए।

यह दुर्दशा प्राइमरी स्कूल क्रमांक एक और दो, मिडिल स्कूल क्रमांक दो और उर्दू गांधी मिडिल स्कूल के हैं। जो श्योपुर शहर के बीच में उत्कृष्ट स्कूल के पास चलने हैं। एक ही परिसर में यह चारों स्कूल चलते हैं। पास में सब्जी मंडी है इसलिए आवारा मवेशी और सूअरों का यहां हर समय जमावड़ा रहता है।

स्कूल का मुख्य दरवाजा खुला रहता है, इसके अलावा बाउंड्री में कई जगह ऐसी मार्ग हैं जिनसे मध्यान्ह भोजन के समय सूअर ठीक उस समय स्कूल में घुस जाते हैं जब, दोपहर में मध्यान्ह भोजन का समय होता है।
मध्यान्ह भोजन करने के लिए अधिकांश बच्चे कक्षा से बाहर चबूतरे पर आकर बैठ जाते हैं, तो कई बच्चे ग्राउंड में बैठकर खाना खाते हैं। खाना खा रहे बच्चों के बीच आए दिन सूअरों के घुसने की घटनाएं होती हैं। सुअरों के कारण कई बार कुछ बच्चे भूखे तक रहे जाते हैं।

स्कूल में शौचालय भी बदहाल

इस परिसर में चार स्कूल चलते हैं जिनमें 600 से ज्यादा बच्चे पढ़ते हैं। बालक और बालिकाओं के लिए स्कूल में अलग-अलग शौचालय बनाए गए हैं, लेकिन वह नाम के है। शौचालयों पर हमेशा ताला लगा रहता है। इस कारण बच्चे खुले मैदान में टॉयलेट के लिए जाते हैं। इस समस्या से कई बार बच्चों के परिजनों ने स्कूल प्रबंधन तक को अवगत कराया, लेकिन शौचालयों के बंद दरवाजे खुले नहीं।

Tags
Back to top button