छत्तीसगढ़

लोक सुराज अभियान 2018 : अपने उड़न खटोले से अचानक ग्राम सेमहरा में पहुंचे – डॉ. रमन सिंह

महिला समूह के लिए भवन निर्माण की भी मंजूरी

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेशव्यापी लोक सुराज अभियान के तीसरे चरण के दूसरे दिन आज सवेरे दंतेवाड़ा से हेलीकॉप्टर द्वारा रवाना होकर आदिवासी बहुल गरियाबंद जिले के ग्राम सेमहरा (विकासखंड-छुरा) में अचानक उतरे। ग्रामीणों ने बड़ी तत्परता से आम के पेड़ की छांव में चौपाल लगाकर उनका आत्मीय स्वागत किया। इस मौके पर राज्य सरकार की मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के तहत शिरडी और शनि शिंगनापुर के तीर्थाटन से लौटे दो ग्रामीणों- बंशी चंद्राकर और गणेश चंद्राकर ने पलाश के फूलों से मुख्यमंत्री का स्वागत किया।

डॉ. रमन सिंह को चौपाल में यह जानकर काफी खुशी हुई कि सेमहरा ग्राम पंचायत के विगत दो आम चुनावों में ग्रामीणों ने निर्विरोध निर्वाचन किया है और सरपंच और पंचों का चुनाव आम सहमति से हुआ है। डॉ. सिंह ने कहा कि यह ग्रामीणों की यह अच्छी परम्परा है। राज्य सरकार ने निर्विरोध निर्वाचन वाली ग्राम पंचायतों को प्रोत्साहन देने के लिए पांच लाख रूपए की अतिरिक्त धन राशि का कार्य मंजूर करने का प्रावधान है। मुख्यमंत्री ने कहा-चूंकि इस ग्राम पंचायत के दो चुनावों में निर्विरोध निर्वाचन हुआ है।

इसलिए पंचायत को अतिरिक्त विकास कार्यों के लिए पांच-पांच लाख रूपए के मान से दस लाख रूपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। उन्होंने सेमहरा में वर्तमान सत्र से शुरू हुए शासकीय हाईस्कूल के लिए भवन निर्माण की स्वीकृति भी तुरंत प्रदान कर दी।

डॉ. रमन सिंह ने इसके अलावा सेमहरा ग्राम पंचायत के आश्रित गांव छतरपुर में कमार सामुदायिक भवन के लिए पांच लाख रूपए और सीसी रोड के लिए भी पांच लाख रूपए तत्काल मंजूर करने की घोषणा की। उन्होंने विकासखंड मुख्यालय छुरा से ग्राम रसेला तक सड़क मरम्मत, बेन्दरा नाला में बांध निर्माण के लिए सर्वेक्षण, सेमहरा में पेयजल टंकी निर्माण और कुलेश्वर से केडीआमा तक सड़क निर्माण की स्वीकृति प्रदान करते हुए अधिकारियों को इन सभी प्रकरणों में काम जल्द शुरू करवाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने सेमहरा में कार्यरत 18 महिला स्वसहायता समूहों की मांग पर महिला समूह के लिए भवन निर्माण की भी मंजूरी दी।

डॉ. सिंह ने चौपाल में ग्रामीणों को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, बिजली कनेक्शनों के लिए प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना सहित शासन की विभिन्न योजनाओं के बारे में बताया और ग्राम पंचायत सेमहरा में इन योजनाओं के तहत चल रहे कार्यों की जानकारी ली। ग्रामीणों ने उन्हें बताया कि सेमहरा में आज से ही मनरेगा के तहत एक सड़क निर्माण का कार्य शुरू हो गया है।

मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों की समस्याओं के निराकरण के लिए गरियाबंद जिला कलेक्टर को ग्राम शंकरनगर में इस महीने की 27 तारीख को समाधान शिविर लगाने के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत कुछ ग्रामीणों द्वारा निर्मित शौचालयों की बकाया राशि का भुगतान तीन दिन के भीतर कर दिया जाए। मुख्यमंत्री के साथ प्रमुख सचिव अमन कुमार सिंह और सचिव सुबोध कुमार सिंह भी उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *