राष्ट्रीय

10 साल की छात्रा पर ब्लेड से हमला, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

पीड़िता को बाथरूम में बुलाने के बाद उसपर हमला किया गया

अलवर :

राजस्थान के अलवर में स्थित एक छात्रावास में 10 साल की छात्रा पर दो नाबालिग छात्राओं के द्वारा ब्लेड से हमला करने का मामला सामने आया है। जिसके बाद उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां उसकी हालत स्थिर बनी हुई है।

बताया जा रहा है कि पीड़िता को बाथरूम में बुलाने के बाद उसपर हमला किया गया। अलवर के माडा में संचालित राजकीय माडा छात्रावास में हुई ये घटना गुरुवार शाम की बताई जा रही है।

जानकारी के मुताबिक हमला करने वाली दोनों छात्राओं की उम्र 13 और 14 वर्ष है। छात्राओं ने पहले तो ब्लेड से पीड़िता का गला काटा और बाद में उसके हाथ और शरीर के कई हिस्सों पर वार किया।

घटना के बाद आरोपी छात्राओं को छात्रावास से वहिष्कृत कर दिया गया है। ये भी कहा जा रहा है कि तीनों छात्राएं रिश्तेदार हैं। वहीं हमला करने के पीछे की वजह क्या था, इस बारे में न तो प्रशासन की ओर से कुछ कहा गया है और न ही छात्राओं के परिजन कुछ कह रहे हैं।

मामले पर आरोपी छात्राओं का कहना है कि वह हाथ के नाखून काट रही थीं और 10 साल पीड़िता का इसी दौरान हाथ कट गया। लेकिन पूरे मामले पर प्रशासन का रवैया गैर जिम्मेदाराना रहा है। घटना को 18 घंटे होने के बाद भी कोई अधिकारी हॉस्टल नहीं पहुंचा। और थानाधिकारी सागरमल भी घटना से इंकार करते रहे।

छात्रावास की सुरक्षा को लेकर भी कई सवाल खड़े हो रहे हैं। हमला करने वाली दोनों छात्राएं बाजार से नई ब्लेड लेकर आईं। जबकि शेविंग ब्लेड का वहां कोई इस्तेमाल ही नहीं होता है। वह आसानी से ब्लेड के साथ छात्रावास के भीतर भी आ गईं।

अगर पीड़िता वार्डन के पास नहीं जाती और समय रहते उसे अस्पताल नहीं ले जाया जाता तो उसका बच पाना मुश्किल था। छात्रावास की वार्डन का कहना है कि वहां सुरक्षा के लिए कोई भी कर्मचारी तैनात नहीं है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
10 साल की छात्रा पर ब्लेड से हमला, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
jindal