11वीं की छात्रा ने कलेक्‍टर के साथ बिताया एक दिन

पुरुषोत्तम पुरोहित

जिला प्रशासन के सच होंगे सपने कार्यक्रम के तहत सितंबर माह के तीसरे सोमवार को कलेक्टर डॉ प्रियंका शुक्ला के साथ पूरे एक दिन रहने का अवसर शासकीय उच्‍चतर माध्यमिक विद्यालय केराडीह की कक्षा 11वीं की छात्रा कुमारी पिंकी गुप्ता को मिला। कुनकुरी के केराडीह में रहने वाले सरोज गुप्ता और श्रीमती सुनिता गुप्ता की पुत्री कुमारी पिंकी ने कक्षा 10वीं की परीक्षा 84 प्रतिशत अंको से उतीर्ण की है और डॉक्टर बनने की बाद कलेक्टर बनना चाहती है।

सच होंगें सपने कार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक के साथ बगीचा तहसील के ग्राम सरभकोम्बो का छात्र बृज किशोर और जिला पंचायत सीईओ के साथ हायरसेकेण्डरी खरसोता के जयप्रताप राम ने भी एक दिन गुजारा। पिछले साल जिला प्रशासन ने अक्टूबर में बेटी जिंदाबाद योजना की शुरूवात की।

जिले के प्रतिभावान युवक-युवतियों का आत्मविश्वास बढ़ाने और उन्हें प्रेरित करने के लिए जिला प्रशासन जशपुर द्वारा सच होंगे सपने कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत प्रतिभावान छात्र- छात्राओं को कलेक्टर के साथ एक दिन रहकर उनके कार्यो का प्रत्यक्ष अवलोकन करने और कैरियर निर्माण के लिए कलेक्टर से मार्गदर्शन प्राप्त करने का अवसर मिलता है।

पिंकी ने बताया कि उसे पहली बार यह पता चला कि कलेक्टर के कार्यालय में इतनी सारी शाखाएं होती है और एक कलेक्टर को कई विषयों पर कार्य करना पड़ता है। कलेक्टर मैडम ने मुझे बताया कि सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी शुरू करने का अभी उपयुक्त समय है जिससे स्नातक परीक्षा उत्तीर्ण करने तक अच्छी तैयारी हो जायेगी। उन्होनें परीक्षा की तैयारी के लिए मार्गदर्शन एवं टिप्स भी दिए।

मुझे अपने लक्ष्य तक पंहुचने का रास्ता और भी साफ दिखाई देने लगा और मेरे इरादे और भी मजबूत हो गए। पिंकी ने बताया। उसने यह भी देखा की एनआईसी विभाग के जरिए दिल्ली, रायपुर में बैठे अधिकारी किस तरह से वीडियो कॉन्फ्रसिंग के माध्यम से जशपुर के अधिकारियों की बैठक लेते है। उसने बताया कि मुझे आज पता चला की कलेक्टर जिला न्यायाधीश भी होती है। पिंकी ने कहा कि अब वह बहुत अधिक मेहनत करेगी और एक दिन कलेक्टर अवश्य बनेगी।

Back to top button