यूपी विधान परिषद चुनाव : सभी 13 प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनाव में राज्य के दो मंत्रियों समेत सभी 13 प्रत्याशियों का आज निर्विरोध निर्वाचन हो गया. विधान परिषद चुनाव के निर्वाचन अधिकारी अशोक कुमार चौबे ने यहां बताया कि गुरुवार का दिन नाम वापस लेने का आखिरी दिन था, किसी भी प्रत्याशी ने नाम वापस नहीं लिया.

लिहाजा सभी 13 प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित हो गए. इसमें भाजपा के 10 उम्मीदवारों के अलावा सपा, बसपा और अपना दल (एस) के एक एक प्रत्याशी हैं. भाजपा की तरफ से ग्राम्य विकास मंत्री महेन्द्र सिंह और वक्फ राज्यमंत्री मोहसिन रजा के अलावा डाक्टर सरोजिनी अग्रवाल, बुक्कल नवाब, यशवंत सिंह, जयवीर सिंह, विद्यासागर सोनकर, विजय बहादुर पाठक, अशोक कटारिया और अशोक धवन अब उच्च सदन के सदस्य होंगे. वहीं, अपना दल (सोनेलाल) के आशीष सिंह पटेल भी विधान परिषद सदस्य बन गए हैं.

सपा ने एक सीट पर अपने प्रान्तीय अध्यक्ष और मौजूदा विधान परिषद सदस्य नरेश उत्तम को चुना गया है. दूसरी तरफ, बसपा के भीमराव अम्बेडकर को चुना गया है. मालूम हो कि विधान परिषद सदस्य और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव तथा भाजपा सरकार के मंत्रियों महेन्द्र सिंह और मोहसिन रजा समेत 13 सदस्यों का कार्यकाल आगामी पांच मई को समाप्त हो रहा है.

जो 13 सीटें खाली हुई थीं, उनमें सात सपा की, दो-दो भाजपा और बसपा की और एक राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) की थी. इनमें एक सीट पूर्व मंत्री अम्बिका चौधरी की भी थी, जो उनके सपा से बसपा में जाने के बाद रिक्त हुई थी.

प्रदेश की 100 सदस्यीय विधान परिषद में अब भाजपा के 21 सदस्य हो गए हैं. वहीं, सपा के 55, बसपा के आठ, कांग्रेस के दो, अपना दल का एक तथा 12 अन्य सदस्य हैं. एक सीट रिक्त है.

Back to top button