क्राइमबिहार

बलात्कारी को दिलाना चाहती है 13 साल की कुंवारी मां फांसी की सजा

उसकी उम्र अभी महज 13 वर्ष की है. वह खुद बच्ची है लेकिन एक वहशी दरिंदे की वजह से वह एक बच्चे की मां बन गई है. जिस वहशी दरिंदे ने उसके साथ बलात्कार किया, वो शादीशुदा है. अब बलात्कार पीड़िता यह लड़की इन्साफ के लिए दर-दर भटक रही है. हालांकि पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है लेकिन आरोपी राजा अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

मामला दरभंगा के कमतौल थाने के मालपट्टी गांव का है जहां पीड़ित लड़की अपने परिवार के साथ गरीबी की जिन्दगी जी रही थी. अचानक एक दिन जब उसकी मां मजदूरी के लिए बाहर गई और छोटे भाई-बहन स्कूल गए थे, उसी दिन राजा नाम के शख्स ने उसके घर में घुसकर जबरन बलात्कार किया. बलात्कारी की दबंगई की वजह से वह चुप रह गई और बुरा सपना समझ कर अपना दर्द भूल कर रोजी-रोटी के सिलसिले में हैदराबाद चली गई. वहीं, उसे अपने गर्भ में पल रहे बच्चे का पता चला.

पीड़िता ने बच्ची को जन्म तो दिया लेकिन वो इन्साफ दिलाने के लिए हैदराबाद से दरभंगा आ गई है. अपनी बच्ची के इन्साफ के लिए कानूनी लड़ाई शुरू कर दी. थाने में न सिर्फ आरोपी के खिलाफ एफआईआर कराई बल्कि माथे पर कुंवारी माँ बनने का कलंक लगाने वाले आरोपी को फांसी की सजा चाहती है. पीड़िता की माने तो राजा अब तक चार शादी कर चुका है और अभी वह एक और लड़की को भगा कर ले गया है.

गांव के लोग भी आरोपी राजा की दबंगई, उलट फेरी के काम से तंग हैं. उनकी मानें तो राजा का कैरेक्टर ही कुछ ऐसा ही है. आपराधिक प्रवृति के साथ-साथ लड़कियों पर उसकी बुरी नज़र हमेशा बनी रहती है. इधर आरोपी राजा एफआईआर के बाद से ही पुलिस की गिरफ्तारी के डर से फरार है वही दरभंगा के डीएसपी दिलनवाज अहमद ने आरोपी की गिरफ्तारी के आदेश के साथ बच्ची के डीएनए टेस्ट भी कराने की तैयारी में जुट गयी है ताकि दूध का दूध पानी का पानी हो जाए. लेकिन यह तभी संभव है जब आरोपी राजा की गिरफ्तारी हो जाए.

Summary
Review Date
Reviewed Item
फांसी की सजा
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.