यूपी के बलरामपुर में 14 BLO को निलंबित

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश में बलरामपुर जिले के श्रावस्ती लोकसभा क्षेत्र में रविवार को हो रहे छठवें चरण के मतदान के दौरान मतदाताओं को वोटर पर्ची न बांटने के आरोप में जिला निवार्चन अधिकारी करूणेश कुमार ने चौदह बूथ लेबल अफसरों (बीएलओ) के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराकर निलम्बित कर दिया है।

निवार्चन कार्यालय सूत्रों के अनुसार, जिले की तुलसीपुर में गैसडी और सदर विधानसभाओं के विभिन्न मतदान केन्द्रों पर तैनात किये गये बीएलओ द्वारा मतदाता पर्ची न बांटने की मिली शिकायत पर जिलाधिकारी ने यह कार्रवाई की है। उन्होंने बताया कि इनमें बलरामपुर सदर के छह, गैसडी के चार और तुलसीपुर के चार बीएलओ शामिल है। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त जिले में कई मतदान केन्द्रों पर ईवीएम खराब होने के कारण कुछ समय तक मतदान बाधित रहा।

भोपाल के महापौर एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता आलोक शर्मा ने आरोप लगाते हुए कहा कि पुराने शहर के आरिफ नगर क्षेत्र में राज्य सरकार के एक मंत्री के भाई ने उनकी पार्टी के पोलिंग एजेंट को धमकाया है।

शर्मा ने गौतम नगर थाने के पास मीडिया से कहा कि पुराने शहर के आरिफ नगर क्षेत्र में कुछ मतदान केंद्रों पर भाजपा के पोलिंग एजेंट के रूप में अंकित साहू, पंकज साहू और आकाश प्रजापति को तैनात किया गया था। वहां पर राज्य सरकार के मंत्री आरिफ अकील के भाई आमिर अकील पहुंचे और उन्होंने पोलिंग एजेंट को धमकाते हुए केंद्र से बाहर करने का प्रयास किया।

सूचना मिलने पर वे स्वयं मतदान केंद्र तक पहुंचे। शर्मा ने कहा कि इस मामले में प्रशासन और पुलिस को भी सूचना दी गयी है। उन्होंने कहा कि भाजपा इस तरह की गतिविधियां नहीं चलने देगी। इस बीच पुलिस सूत्रों ने कहा कि संबंधित मतदान केंद्रों पर मतदान चल रहा है। सूचनाओं के आधार पर मतदान केंद्रों से कुछ लोगों को लाकर पूछताछ की जा रही है। इसके बाद आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

Back to top button