19 साल पहले अटल बिहारी वाजपेयी ने रखी थी जीएसटी की नींव

बजट मैनेजमेंट (एफआरबीएम) एक्ट को लागू करने का जिम्मा सौंपा

नई दिल्ली। मोदी सरकार ने पिछले साल भारत में जब गुड्स ऐंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) को लागू किया। लेकिन इसकी नींव 19 साल पहले तत्‍कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने 1999 में ही रख दी थी।

जब अटल बिहारी वाजपेयी देश के प्रधानमंत्री थे तब साल 2003 में वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा की पहल पर केंद्र सरकार को सर्विस टैक्स लगाने का अधिकार देने के लिए संविधान में संशोधन किया गया था।

वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने अपने सलाहकार और पूर्व वित्त सचिव विजय केलकर को फिस्कल रिस्पांसिबिलिटी और बजट मैनेजमेंट (एफआरबीएम) एक्ट को लागू करने का जिम्मा सौंपा।

इस टास्क फोर्स ने अपनी रिपोर्ट में विदेशों में अपनाए गए गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) पर पेश की। इस रिपोर्ट में राज्यों के लिए 7 फीसदी और केंद्र के लिए 5 फीसदी टैक्स की दरें तय की गई थी।

Back to top button