रांची रेल मंडल में 196 कर्मचारी पाए गए कोरोना पॉजिटिव

रेल मंडल के डीआरएम भी कोरोना की चपेट में आए

रांची: रांची रेल मंडल में 196 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. जानकारी के अनुसार रेल मंडल के डीआरएम भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं. अब तक आठ लोगों ने अपनी जान गंवा दी है. रांची रेल मंडल के सीपीआरओ नीरज कुमार तमाम कर्मचारियों से अपडेट ले रहे हैं.

रांची रेल मंडल में रेलवे अस्पताल होने के बावजूद रेलवे कर्मचारी इलाज के लिए दर दर भटक रहे हैं. कई कर्मियों को वेंटिलेटर की जरूरत है. इसके बावजूद रांची रेल मंडल इन कर्मचारियों के लिए कोई विशेष उपाय नहीं कर पा रही है और इसी वजह से लगातार संक्रमित कर्मचारियों की मौत हो रही है.

इस कोरोना संकट की वजह से तमाम कर्मचारी अब खौफजदा हो गए हैं और उन्हें ड्यूटी पर जाने से डर लग रहा है. इस समय रिजर्वेशन काउंटर में चार कर्मी कोरोना से संक्रमित हुए हैं. वहीं, ऑपरेटिंग विभाग में 50 से अधिक कर्मचारी संक्रमित हैं. स्टेशन मास्टर और अन्य संबंधित कर्मचारी भी कोरोना के संक्रमण के शिकार हो चुके हैं.

कर्मचारी संक्रमित होने के डर से ड्यूटी जाने से कतरा रहे हैं. लोग मेडिकल लीव लेकर घरों में रहना चाह रहे हैं. कर्मचारियों की ओर से 50% रोस्टर लागू करने की मांग की जा रही है. इस मांग पर अभी तक कोई जवाब नहीं आया है.

वैसे सिर्फ कर्मचारी ही संक्रमित नहीं हो रहे हैं, बल्कि वहां मौजूद टेस्टिंग व्यवस्था भी कई तरह के सवाल खड़े कर रही है. बताया जा रहा है कि हटिया रेलवे स्टेशन पर टेस्टिंग की सही व्यवस्था नहीं है. पनवेल से आई ट्रेन के यात्रियों की तो जांच भी नहीं की गई है.

ऐसे में संक्रमित मरीजों का ये आंकड़ा सिर्फ बढ़ने वाला है, कम होने के लक्षण अभी दिखाई नहीं पड़ते. इससे पहले भी रांची में टेस्टिंग पर सवाल उठे हैं, सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर लोगों की उदासीनता ने प्रशासन को कठघरे में खड़ा किया है.

बढ़ते मामलों को रोकन के लिए सरकार की तरफ अब मिनी लॉकडाउन का सहारा लिया गया है. गुरुवार से 29 अप्रैल तक स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह बनाया जाएगा. इस बीच नागरिकों पर तमाम तरह की पाबंदियां रहेंगी और बिना वजह घर से बाहर निकलना भी वर्जित रहेगा.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button