क्राइमछत्तीसगढ़

लूट के मास्टरमाइंड सहित 2 आरोपी गिरफ्तार, आरोपियो से 71.56 लाख रूपये की लूट की रकम बरामद

हिमांशु सिंह ठाकुर :- ब्यूरो रिपोर्ट कवर्धा।

कवर्धा :- घटना 09.07.20 को मनोज कश्यप अपने सेठ राईस मिलर मुन्ना अग्रवाल का नगदी रकम 71.56 लाख रूपये को बोरे में लेकर अपने सहयोगी पारस यादव के साथ मोटर सायकल से बिलासपुर जा रहा था रास्ते में थाना पाण्डातराई क्षे़त्रांर्गत ग्राम जंगलपुर बस्ती से करीब 01 किमी. आगे कुण्डा मार्ग में दो अज्ञात मोटर सायकल चालक आरोपियो के द्वारा प्रार्थी का रास्ता रोककर आंख में मिर्ची पाउडर डालकर तथा कट्टा दिखाकर नगदी रकम को लूटकर ले जाने की सूचना थाना में प्राप्त होने पर धारा 394 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर वरिष्ठ अधिकारियो के मार्ग निर्देशन एवं दिशा निर्देश में अज्ञात आरोपियो एवं मशरूका एवं मशरूका की पतासाजी हेतू गठित पुलिस टीम ने त्वरित कार्यवाही करते हुये घटनास्थल का निरीक्षण एवं मनोज कश्यप से पूछताछ किया गया जिसमें मनोज कश्यप द्वारा बार बार संदेहास्पद बयान दर्ज कराने पर संदेह के दायरे में लेकर कड़ाई से पूछताछ पूछताछ किया गया जो मनोज कश्यप द्वारा बताया गा जिस पर उसके द्वारा घटना को सोची समझी साजिश के तहत घटना को घटित करना बताया पुंलिस अधीक्षक के निर्देशन पर अलग -अलग टीम गठित की गयी जो आरोपी मनोज कश्यप के निशानदेही पर दिलीप चंद्रवंशी, संजय चंद्रवंशी, दीपचंद चंद्रवंशी, पिंकी चंद्रवंशी तथा मुकेश चंद्रवंशी को गिरफ्तार किया गया।

उसके पास से कुल 68 लाख 50 हजार रूपये बरामद किया गया दिनांक 11.07.20 को घटना में शामिल फरार आरोपी पप्पू चंद्रवंशी को उनके घर से गिरफ्तार किया गया और उनके पास से 02 लाख रूपये बरामद किया गया एवं नारायण चंद्रवंशी को दुर्ग पुलिस ने एक लॉज से गिरफ्तार किया नारायण के पास से कुल 01 लाख रूपये बरामद किया गया। बरामदगी शत प्रतिशत रहा घटना के संबंध में आरोपियो से पूछताछ करने पर बताये कि 15 दिवस पूर्व जब मनोज कश्यप दिलीप चंद्रवंशी एवं नारायण चंद्रवंशी के साथ शराब पील रहा तो उसने बोला कि मैं अपने सेठ मुन्ना अग्रवाल की बड़ी रकम हर दूसरे तीसरे दिन मोटर सायकल में लेकर बिलासपुर जाता हूं तो दिलीप चंद्रवंशी ने मनोज कश्यप से कहा कि जब तू कोई बड़ी रकम लेकर बिलासपुर सजायेगा तो बतानाउस रकम को हम लोग रास्ते में ही लूट लेंगे और बराबर बराबर बांट लेंगे घटना के एक दिन पूर्व दिनांक 08.07.20 को मनोज कश्यप ने दिलीप चंद्रवंशी को शाम को फोन करके बताया कि कल दिनांक 09.07.20 को को सुबह वह अपने सेठ का बड़ी रकम लेकर बिलासपुर जाउंगा तब रास्ते में तुम लोग लूट लेना, तब दिनांक 09.07.20 को सुबह मनोज कश्यप पारस यादव के साथ मोटर सायकल में पैसे लेकर कवर्धा से बिलासपुर जा रहा था कि जंगलपुर एवं खैरवार के बीच सुबह करीबन 08.45 बजे पप्पू चंद्रवंशी अपनी मोटर सायकल पेशन प्रो को उनकी गाड़ी के सामने लाकर खड़ा कर दिया और लात मारकर गिरा दिया। जिससे मनोज कश्यप एवं पारस यादव गिर गये। पप्पू चंद्रवंशी ने अपने जेब से मिर्ची पाउडर निकालकर दोनो के उपर फेंका इस घटना से डरकर पीछे की ओर भागा तब पीछे से स्कूटी में नारायण चंद्रवंशी ने बोरी में रखे रकम को अपनी स्कूटी में रखकर भाग गया।

नारायण चंद्रवंशी पूरे रकम को गन्ने के खेत लेकर गया कुछ रकम को स्कूटी के डिग्गी में रखा और शेष रकम कोा वही गन्ने के खेत में छुपा दिया रात में पुनः नारायण चंद्रवंशी खेत में आकर गन्ना खेत में रखे पैसे को लेकर अपने गांव कंझेटा गये जहां दिलीप चंद्रवंशी के बताने पर उसने रकम को संजय, दीपचंद, मुकेश, पप्पू के पास रखवाया, सुबह दिलीप चन्द्रवंशी के घर पुलिस द्वारा दबिश दी गई, तब वह भागने लगा, जिसे पकड़ कर हिरासत में लिया गया, दिलीप चन्द्रवंशी के निशानदेही पर संजय, दीपचंद के दुकान में एवं पप्पू तथा नारायण चन्द्रवंशी के घर छापा मारा गया, जहॉं रकम बरामद हुई।

नारायण चन्द्रवंशी एवं पप्पू चन्द्रवंशी को इसकी जानकारी होने पर दोनो फरार हो गये, नारायण चन्द्रवंशी दुर्ग के लॉज में छुपा हुआ था, जिसे दुर्ग पुलिस ने गिरफ्तार किये, पप्पू चन्द्रवंशी को उसके घर से गिरफ्तार किये एवं लूट की पूरी रकम 71 लाख 50 हजार रूपये बरामद किया गया जिसके लिये गृहमंत्री छत्तीसगढ़ शासन एवं पुलिस महानिदेशक छत्तीसगढ़ तथा पुलिस महानिरीक्षक, दुर्ग रेंज, दुर्ग के द्वारा सराहना करते हुये सम्मिलित सभी अधिकारी/कर्मचारियो के उत्साहवर्घन हेतु ईनाम देने की घोषणा किये है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button