राधाष्टमी पर इस मंत्र के साथ तिजोरी में रखे 2 रुपए का सिक्का,होगी धन की बारिश

शास्त्रों में राधारानी व श्री कृष्ण को शाश्वत प्रेम का प्रतीक माना जाता है

सोमवार को भाद्रपद शुक्ल अष्टमी पर राधाष्टमी पर्व मनाया जाएगा। शास्त्रनुसार इस दिन श्रीकृष्ण की बाल सखी, जगजननी भगवती शक्ति राधा का जन्म हुआ था।

कृष्ण जन्माष्टमी के 15 दिन बाद राधा जी का जन्मोत्सव मनाया जाता है। इनके पिता का नाम वृषभानु व माता का नाम कीर्ति है। शास्त्रों में राधारानी व श्री कृष्ण को शाश्वत प्रेम का प्रतीक माना जाता है। शास्त्रों में राधा को कृष्ण की शक्ति के रूप में माना जाता है। ब्रजमंडल का बरसाना क्षेत्र राधा की जन्मस्थली कहा गया है।

राधाष्टमी पर्व पर ब्रजमंडल क्षेत्र में राधा का जन्मोत्सव मनाने के लिए लोग एकत्र होते हैं। इस दिन पहाड़ी पर स्थित राधा जी के मंदिर में विशेष पूजन होता है व गहवर वन की परिक्रमा होती है। ब्रजमंडल ही कृष्ण की जन्मभूमि है व यहीं पर उन्होंने राधा संग यौवन बिताया था। इस दिन राधाजी के निमित विशिष्ट पूजन किया जाता है।

राधाष्टमी के विशेष पूजन से प्रेम में सफलता मिलती है, कुंवारों को सुंदर पार्टनर मिलता है, दांपत्य में प्रेम बढ़ता है। स्पेशल पूजन विधि: ठीक मध्यान के समय राधाकृष्ण का युगल पूजन करें। घर की उत्तर दिशा में लाल रंग का कपड़ा बिछाएं तथा मध्य भाग में चौकी पर मिट्टी या तांबे का कलश स्थापित करें।

चौकी पर राधा और कृष्ण की मूर्ति या चित्र स्थापित करें। राधाकृष्ण जी को पंचामृत से स्नान करवाएं। राधा जी को सोलह शृंगार आर्पित करें तत्पश्चात राधाकृष्ण का पंचोपचार पूजन करें। धूप, दीप, पुष्प, चंदन और मिश्री अर्पित करें तथा इस मंत्र का सामर्थ्यानुसार जाप करें।

मंत्र जाप पूरा होने के बाद यथासंभव एक समय भोजन करें अथवा व्रत करें। ब्राह्मण सुहागन स्त्रियों को भोजन करवाकर आशीर्वाद लें तथा श्रीराधा को अर्पित सोलह श्रृंगार का सामान भेंट करें।

स्पेशल मंत्र: ममः राधासर्वेश्वर शरणं॥

स्पेशल पूजन मुहूर्त: दिन 11:51 से दिन 12:39 तक।

अचूक टोटके

प्रेम में सफलता के लिए: भोजपत्र पर चंदन से प्रेमी का नाम लिखकर राधा-कृष्ण मंदिर में चढ़ाएं।

सुंदर पार्टनर प्राप्त करने के लिए: राधा कृष्ण मंदिर में हल्दी, चंदन और कुंकुम चढ़ाएं।

दांपत्य में प्रेम बढ़ाने के लिए: राधा जी पर चढ़े कर्पूर से बेडरूम में धूप करें।

गुड हेल्थ के लिए: श्रीराधाकृष्ण के चित्र पर केसर मिश्रित दूध चढ़ा कर सेवन करें।

गुडलक के लिए: तुलसी पत्र पर सफ़ेद चंदन लगा कर श्रीराधाकृष्ण के चित्र पर चढ़ाएं।

विवाद टालने के लिए: गौघृत में इत्र मिला कर श्रीराधाकृष्ण के चित्र के समीप अष्टमुखी दीपक करें।

नुकसान से बचने के लिए: काले धागे में पिरोए हुए 12 फूलों की माला श्रीराधाकृष्ण के चित्र पर चढ़ाएं।

प्रोफेशनल सक्सेस के लिए: 2रू का सिक्का हाथ में लेकर “ॐ राधा कृष्णाय नमः” का जाप कर सिक्का तिजोरी में रखें।

एजुकेशन में सक्सेस के लिए: श्रीराधाकृष्ण के चित्र पर 5 सफ़ेद फूल चढ़ाएं।

बिज़नेस में सफलता के लिए: श्रीराधाकृष्ण के चित्र पर नारियल मिश्री चढ़ाएं।

पारिवारिक खुशहाली के लिए: ॐ राधा वल्लभाय नमः मंत्र का जाप करें।

लव लाइफ में सक्सेस के लिए: सफ़ेद कपड़े में बंधे 5 केले राधा कृष्ण मंदिर में चढ़ाएं।

मैरिड लाइफ में सक्सेस के लिए: राधा कृष्ण मंदिर में चढ़े इत्र का इस्तेमाल करें।

Tags
Back to top button