पति-पत्नी बनकर रह रही 2 महिलाओं ने ठगी की घटना को दिया अंजाम

दोनों ने एक-दूसरे को पति-पत्नी के तौर पर पेश किया

सीकर: राजस्थान के सीकर के दांतारामगढ़ के दलतपुरा में करीब 9 महीने तक पति-पत्नी बनकर रह रही 2 महिलाओं ने मकान मालिक समेत कई लोगों के साथ बड़ी ठगी की घटना को अंजाम दिया है.

दोनों महिलाएं खुद को पति-पत्नी के तौर पर लोगों के सामने पेश करतीं और अलग-अलग तरह का झांसा देकर लोगों को ठगती थीं. महिलाएं मकान मालिक से 5 लाख रुपये नकद और मकान का किराया बिना भुगतान किए रफूचक्कर भी हो गई थीं. पुलिस ने महिलाओं के खिलाफ धोखाधड़ी का केस भी दर्ज किया है.

पीड़ित मकान मालिक ने पुलिस थाने में खुद के साथ हुई धोखाधड़ी की खबर दी. गिरफ्तारी के बाद इस बात का खुलासा हुआ है कि दोनों आपस में पति-पत्नी न होकर महिला मित्र हैं. पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से जांच कराई, जिसमें जीतू भाई पटेल के तौर पर खुद को पेश करने वाली महिला निकली.

बहाना बनाकर लिया कमरा

पीड़ित मकान मालिक चौथुराम ने पुलिस में तहरीर दी थी कि दोनों ने एक-दूसरे को पति-पत्नी के तौर पर पेश किया. उन्होंने बताया कि उनका प्रोजेक्ट जयपुर, सीकर और नागौर में चलता है. कोरोना काल में उन्हें होटल में जगह नहीं मिल रही है, इसलिए घर पर किरायेदार बनकर रहना चाहते हैं. दोनों किराएदार के तौर पर यहां करीब 9 महीने तक रहे.

दोनों ने परिवार को प्रोजेक्ट में शामिल होने का झांसा दिया और अलग-अलग किश्तों में रुपये ले लिए. स्टांप पेपर पर कागजी कार्रवाई भी हुई थी. पुलिस ने मामला दर्ज कर केस की जांच शुरू की तो 12 जून को दोनों को गुजरात के मेहसाणा से गिरफ्तार कर लिया गया है.

मकान मालिक के मुताबिक इन महिलाओं पर किसी को भी संदेह नहीं हुआ. लोग उन्हें पति-पत्नी ही मानते रहे. मकान मालिक तक को इस बात की भनक नहीं लगी कि दोनों महिलाएं हैं. पुलिस को गिरफ्तारी के बाद शक हुआ तो मेडिकल टेस्ट कराया. जिसमें पति बनकर रह रहे जीतू भाई पटेल की असली पहचान महिला की निकली. महिला ने अपने डॉक्यूमेंट में भी अपना नाम जीतू भाई पटेल रखा था. उसका रहन-सहन भी पुरुषों की तरह लग रहा था.

कई राज्यों में कर चुकी हैं ठगी

थाना प्रभारी ने बताया कि दोनों ने मकान मालिक के साथ ही दांतारामगढ़ में कई लोगों को ठगी का शिकार बनाया है. कई टैक्सी वालों और सब्जी वालों से भी दोनों ने ठगी की है. थाना प्रभारी के मुताबिक अभियुक्त काफी शातिर और बदमाश प्रवृत्ति के हैं. देश की अलग-अलग जगहों पर दोनों घूमकर लोगों से ठगी की वारदात को अंजाम देती थीं.

थाना प्रभारी हिम्मत सिंह के मुताबिक 2015 से दोनों पति-पत्नी बनकर अलग-अलग हिस्सों में रह चुकी हैं. दोनों ने उत्तराखंड, केरल, देहरादून, महाराष्ट्र, दिल्ली, जयपुर और अजमेर जैसी जगहों पर धोखाधड़ी की है. दोनों महिलाएं गुजरात की रहने वाली हैं. दोनों ठग महिलाओं के नाम रितु और दर्शना है. पुलिस पूरे माले की छानबीन कर रही है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button