सर्जिकल स्ट्राइक के 2 साल: रक्षा मंत्री बोलीं, सीमा पर जारी रहेगी हमारी कार्रवाई

चेन्नै।

सर्जिकल स्ट्राइक के दो साल पूरे होने के मौके पर भारत ने पाकिस्तान को कड़ा संदेश दिया है। चेन्नै में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक पाकिस्तान को भारत का जवाब था। उन्होंने साफ कहा कि भले ही पाकिस्तान ने इससे सबक सीखा हो या नहीं, सीमा पर हमारी कार्रवाई जारी रहेगी।

आपको बता दें कि रक्षा मंत्री का यह बयान ऐसे समय में आया है जब एक दिन पहले ही यूपी के मुजफ्फरनगर में एक कार्यक्रम के दौरान गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि भारत ने सर्जिकल स्ट्राइक की तरह ही पाकिस्तान पर हाल में बड़ी कार्रवाई की है।

राजनाथ ने कहा, ‘आपने देखा हमारे बीएसएफ के एक जवान के साथ पाकिस्तान ने कैसे बदसलूकी की। शायद आप लोगों को कुछ पता भी हो। मैं अभी बताऊंगा नहीं लेकिन कुछ हुआ है, कुछ ठीक-ठाक हुआ है। विश्वास करिए कुछ ठीक-ठाक हुआ है 2-3 दिन पहले।’ शनिवार को रक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि उन्हें भरोसा है कि इस तरह की कार्रवाई से पाकिस्तान आतंकियों को प्रशिक्षण देने और उन्हें सीमा के इस पार भेजने से बाज आएगा।

शहादत का भारत ने लिया था बदला

आपको बता दें कि उरी हमले में 17 जवानों के शहीद होने के बाद 28-29 सितंबर 2016 को भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक की थी। अब दो साल बाद सरकार इसे पराक्रम पर्व के तौर पर मना रही है। निर्मला सीतारमण ने साफ कहा कि उरी के आतंकियों को पाकिस्तान का समर्थन हासिल था।

रूस से डील पर भारत अडिग

रूस से हथियार खरीदने पर अमेरिका के बदलते तेवर के बीच रक्षा मंत्री ने कहा कि S-400 एयर डिफेंस सिस्टम्स पर लंबे समय से बातचीत चल रही है और अब यह ऐसे स्टेज में पहुंच चुकी है, जहां इसे फाइनल किया जा सकता है। उन्होंने इशारों में भारत की प्रतिबद्धता का संकेत देते हुए कहा कि रूस से हथियार उपकरण खरीदना हमारी विरासत रही है।

राफेल पर कहा- चार बार दिया जवाब

राफेल डील पर विपक्ष के आरोपों का जवाब देते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा, ‘मैं संसद में यह साफ कर दूंगी कि मैंने इस सवाल का चार बार जवाब दिया है। मैंने लिखित में भी जवाब दिए हैं। फैक्ट्स वही हैं पर क्या आप उन जवाबों को स्वीकार कर रहे हैं?’

Back to top button