20-20-20 रुल से समझाया बढ़ते स्क्रीन टाइम में आंखों की देखभाल

ऑनलाइन क्लासेज के लिए छात्रों को मोबाइल, लैपटोप का प्रयोग अत्याधिक करना पड़ रहा है

रायपुर : मैट्स विश्वविद्यालय के कुलाधिपति गजराज पगारिया एवेम डिरेक्टर जनरल प्रियेश पगारिया ने विगत एक वर्ष से चल रहे ऑनलाइन क्लासेस में विद्यार्थियो की सहभागिता एवम उत्साह को बनाए रखने में के लिए विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन के लिए शिक्षकों को प्रोत्साहित किया है।

इसी कड़ी में टेक्नोलॉजी के माध्यम से अध्य्यन के साथ साथ उससे जुड़ी स्वास्थ्य संबंधित संगोष्ठी का आयोजन मैट्स विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ साइंसेज द्वारा 28 मई,2021 को किया गया।

ऑनलाइन क्लासेज के लिए छात्रों को मोबाइल, लैपटोप का प्रयोग अत्याधिक करना पड़ रहा है जिसके परिणाम स्वरूप उन्हें कई कठिनाइयो का सामना पड़ रहा है।

ऐसे ही एक आंखों से जुड़ी समस्या पर डॉ. सोनल व्यास, ऑप्थल्मोलॉजिस्ट,एस बी एच् हॉस्पिटल रायपुर,ने अपने सुझाव प्रस्तुत किए, जहा उन्होंने इंस्रासिंग स्क्रीन टाइम एंड इट्स एफवक्ट्स न आईज पर व्याख्यान दिया। रजिस्ट्रार गोकुलनन्दा पंडा ने भी अपनी कुछ शंकाओ का समाधान पाया।

सौ से अधिक इस व्याख्यान में सम्मिलित हुए व कुछ ने अपने आंखों से संबंधित प्रश्न पूछे। एडवाइजर डॉ प्रशांत मुंडेजा के निर्देशन में सफल हुआ । विभागद्ययक्ष डॉ आशीष सराफ ने छात्रों को प्रोत्साहित किया।

वेबिनार का संचालन वेबिनार की कोऑर्डीनेटर डॉ भाग्यश्री देशपांडे तथा धन्यवाद ज्ञापन वेबिनार की कोऑर्डिनेटर डॉ मेघना श्रीवास्तव द्वारा किया गया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button