छत्तीसगढ़ के लिए 2018 भी होगा नई उपलब्धियों का वर्ष : डॉ. रमन

छत्तीसगढ़ के लिए 2018 भी होगा नई उपलब्धियों का वर्ष : डॉ. रमन

रायपुर । मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को नए वर्ष ईस्वी सन 2018 की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। डॉ. रमन सिंह ने रविवार को जारी शुभकामना संदेश में कहा कि, देश और दुनिया में वर्ष 2017 अपने साथ अनेक उपलब्धियों और यादगार प्रसंगों को लेकर बिदा हो रहा है। इस दौरान जनता के सहयोग से छत्तीसगढ़ को भी विकास के हर क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण सफलताएं मिली हैं। नया साल 2018 भी छत्तीसगढ़ के लिए नई उपलब्धियों का वर्ष होगा।

उन्होंने कहा कि, राज्य में विकास की गति तेज हुई है। छत्तीसगढ़ सरकार ने जनता की बेहतरी के लिए कई बड़े फैसले भी किए है। मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत प्रदेश के सभी लगभग 55 लाख परिवारों को स्मार्ट कार्ड के जरिए मिल रही 30 हजार नि:शुल्क इलाज की सुविधा को बढ़ाकर 50 हजार रुपए कर दिया गया है।

सरकारी योजनाओं की दी जानकारी : राज्य की प्राथमिक वनोपज सहकारी समितियों में सदस्य के रुप में शामिल लगभग 14 लाख तेंदूपत्ता संग्राहकों के लिए पारिश्रमिक की राशि 1800 रुपए प्रति मानक बोरा से बढ़ाकर 2500 रुपए कर दिया गया है । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की विभिन्न योजनाओं से छत्तीसगढ़ में भी गांव ,गरीब और किसानों के जीवन में उत्साहजनक और गुणात्मक बदलाव आ रहा है। नए वर्ष 2018 में प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन के शत-प्रतिशत लक्ष्य को छत्तीसगढ़ निर्धारित समय से एक साल पहले ही प्राप्त कर लेगा। सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ खुले में शौचमुक्त ( ओडीएफ ) राज्य का गौरव हासिल कर लेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, छत्तीसगढ़ देश का पहला और इकलौता राज्य है, जिसने अपने मेहनतकश तेंदूपत्ता श्रमिकों के लिए ढाई हजार रुपए प्रति मानक बोरे का पारिश्रमिक निर्धारित किया है। इसका फायदा तेंदूपत्ता संग्राहकों को वर्ष 2018 से मिलने लगेगा। राज्य सरकार ने अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के व्यापक हित में एक बड़ा निर्णय लिया है, जिसके अनुसार छत्तीसगढ़ के 27 अधिसूचित जाति समूहों के 85 उच्चारण विभेदों (फोनेटिक वेल्यूज) को मान्य किया गया है। इससे अब इन जाति समूहों के राजस्व अभिलेखों और अन्य अभिलेखों में दर्ज उनके जातियों के नामों में विभिन्न स्थानीय बोलियों के उच्चारण विभेदों के आधार पर जाति प्रमाण पत्र करना अधिक आसान हो जाएगा। इनमें अनुसूचित जनजाति वर्ग के 22 समूहों के 66 उच्चारण विभेद और अनुसूचित जाति के पांच समूहों के 19 उच्चारण विभेद शामिल हैं।

डॉ. रमन सिंह ने कहा कि, वर्ष 2017 छत्तीसगढ़ को एक और बड़ी सौगात देकर जा रहा है। केन्द्र सरकार की भारत नेट परियोजना के दूसरे चरण में राज्य के छह हजार ग्राम पंचायतों में इंटरनेट सुविधाओं के विस्तार के लिए 30 दिसंबर को रायपुर में केन्द्रीय संचार राज्य मंत्री मनोज सिन्हा की उपस्थिति में एक बड़ा समझौता हुआ है। इस समझौते के अनुसार इन ग्राम पंचायतों में 32 हजार किलोमीटर से ज्यादा ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क के जरिए इंटरनेट और मोबाइल कनेक्टिविटी का विस्तार किया जाएगा। इससे छत्तीसगढ़ एक नये युग में प्रवेश करेगा। मुख्यमंत्री ने नये वर्ष 2018 के आगमन पर सभी लोगों के लिए सुख-समृद्धि की कामना की है।

advt
Back to top button