2019 का रास्ता यूपी से होकर जाएगा, मिलेंगी 74 सीटें: शाह

-NRC पर बीजेपी अध्यक्ष ने किया ममता-कांग्रेस पर वार

चंदौली :

2019 के लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने उत्तर प्रदेश में अपना अभियान तेज कर दिया है। चुनाव में एक साल से भी कम वक्त बचा है और बीजेपी मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए जनता से वोट मांग रही है।

यूपी के मुगलसराय में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने जनसभा में कहा कि जनता 2019 में भी बीजेपी को ही जिताएगी। साथ ही शाह ने कहा कि बुआ, भतीजा और राहुल मिल जाएं, तो भी नहीं जीत पाएंगे। शाह ने कहा कि मोदी सरकार यूपी के विकास के लिए काम कर रही है।

शाह ने जनसभा के दौरान जनता से यूपी में 74 सीटें जिताने की अपील की। शाह ने कहा कि 2019 में जीत का रास्ता यूपी से होकर जाएगा। शाह ने कहा, ‘2019 के चुनाव में यूपी से पार्टी की वर्तमान में जो 73 सीट है उससे एक भी कम यानी 72 नहीं बल्कि 74 जरूर हो सकता है। बुआ-भतीजा के साथ चाहे राहुल बाबा मिल जाएं, कोई फर्क नहीं पड़ता।

बीजेपी अध्यक्ष ने एसपी, बीएसपी के साथ ही कांग्रेस को जनता के बीच अपने जनाधार को कभी भी अजमाने की चेतावनी देते हुए कहा कि 2019 में यूपी से ही दिल्ली का रास्ता जाएगा। शाह ने कहा कि मोदी सरकार यूपी के विकास के लिए समर्पित है। इससे पहले लखनऊ में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी कहा कि विकास की दिशा में मोदी सरकार तेजी से काम कर रही है।

NRC के बहाने ममता-कांग्रेस पर हमला

उत्तर प्रदेश के चंदौली स्थित मुगलसराय जंक्शन के नए नामकरण के मौके पर आयोजित जनसभा में कांग्रेस, समाजवादी पार्टी (एसपी) समेत बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) पर जमकर निशाना साधा। यही नहीं, इस दौरान उन्होंने नैशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन (एनआरसी) के मुद्दे पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला किया।

शाह ने एनआरसी के मुद्दे पर कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत नरेंद्र मोदी सरकार ने एनआरसी बनाया। एनआरसी देश में से, असम में से बांग्लादेशी घुसपैठियों को चुन-चुनकर निकालने की व्यवस्था है। ममता बनर्जी कहती हैं एनआरसी नहीं होना चाहिए। कांग्रेस कहती है एनआरसी नहीं होना चाहिए।

मैं चार दिन से राहुल बाबा से पूछ रहा हूं कि इस देश में एनआरसी होना चाहिए या नहीं तो वह जवाब नहीं देना चाहते हैं। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, ‘मुगलसराय की धरती पर मैं एसपी, बीएसपी और कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि तय कर लो बांग्लादेशी घुसपैठियों को यहां रखना चाहते हो या निकालना चाहते हो। मुझे उत्तर प्रदेश की जनता का जवाब मालूम है, एक भी बांग्लादेशी घुसपैठियों को यहां रखना नहीं चाहिए।

Back to top button