2 किलोमीटर तक पटरी पर दौड़ती रही बिना इंजन के 21 बोगियां

जानें कहा हुआ हादसा, सड़कों के किनारे लोगों की भीड़ देखती रही पूरा नजारा

कोलकाता। बेंगलुरु-तिनसुकिया के बीच चलने वाली सुपरफास्ट ट्रेन में बैठे यात्रियों के लिए गुरुवार का दिन बहुत भयानक रहा। यात्रियों की जान उस समय अटक गई जब तेज रफ्तार से चल रही इस ट्रेन से इंजन अलग गया।

ट्रेन बिना इंजन के दो किलोमीटर तक चली गई। 21 कोच वाली इस ट्रेन के यात्रियों ने तब राहत की सांस ली जब ट्रेन अलीपुरद्वार के मदारीहाट स्टेशन से कुछ दूर जाकर रुकी।

यह हादसा गुरुवार की सुबह लगभग नौ बजे हुआ। ट्रेन असम जा रही थी। तभी अचानक बोगियों से इंजन अलग हो गया। इस बात का अहसास लगभग पांच से सात मिनट के अंदर ही ड्राइवर को हो गया। ड्राइवर ने इसकी सूचना तत्काल अलीपुरद्वार डिविजन के अधिकारियों को दी। ट्रेन रुकने के बाद भी यात्री दहशत में रहे।

हादसे में कोई घायल नहीं

इस हादसे में किसी के भी घायल होने की सूचना नहीं है। अधिकारियों ने बताया कि एसी स्पेशल ट्रेन से इंजन अलग होने के बाद वह धीरे-धीरे जाकर अपने आप रुक गई। जिस समय इंजन कोचों से अलग हुआ, उस समय ट्रेन की रफ्तार 60 किलोमीटर प्रतिघंटे की थी।

ट्रेन के रुकने के बाद मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने बोगियों में फिर से इंजन जुड़वाया। ठीक से जांच करने के बाद ट्रेन को दोपहर डेढ़ बजे रवाना किया जा सका। बताया जा रहा है कि कपलिंग टूटने के कारण इंजन बोगियों से अलग हो गया था।

1
Back to top button