छत्तीसगढ़

21 ब्राह्मणों ने शंखनाद और मंत्रोच्चार कर सीएम बघेल का जताया आभार

रायपुर: धार्मिक स्थलों के खोले जाने के बाद रायपुर विधायक विकास उपाध्याय के नेतृत्व में 21 ब्राम्हणगणों ने शंखनाद और मंत्रोच्चार कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार व्यक्त किया है.

मुख्यमंत्री बघेल ने ब्राम्हण गणों से कोरोना महामारी के बचाव के लिए मन्दिरों में मास्क और सेनेटाइजर के साथ ही फिजिकल डिस्टेंसिंग का अनिवार्य पालन करने को कहा है. उन्होंने कहा कि आप सुरक्षित रहेंगे, तभी मन्दिर परिसर सुरक्षित रहेंगे.

विधायक विकास उपाध्याय ने छत्तीसगढ़ में धार्मिक स्थलों के खोले जाने का पूरा श्रेय मुख्यमंत्री बघेल को दिया है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की महामारी को रोकने के लिए लगातार लॉकडाउन जारी था, लेकिन मंदिरों के प्रति लोगों की अपनी आस्था है. हम धार्मिक भावनाओं से जुड़े हैं और पूजा पाठ कर अपना मनोबल बढ़ाते है.

धार्मिक स्थलों को खोलने की मांग मैंने काफी पहले से की थी. जिसे आज से खोलना तय हुआ है. सभी पंडित शंख ध्वनि के माध्यम से मंत्र उच्चारण कर सीएम का धन्यवाद किया. सभी पंडित अलग-अलग जगह से हैं, जो मंत्र उच्चारण के माध्यम से प्रदेश की सुख समृद्धि की कामना की.

पंडित विरेंद्र कुमार शुक्ला ने बताया कि हम सभी यहां मुख्यमंत्री का धन्यवाद करने आए थे. काफी दिनों के बाद मंदिरों के पट को खोले गए है. जिन ब्राम्हणों की आर्थिक स्थिति कमजोर थी कहीं न कहीं उन्हें भी राहत मिलेगी. काफी दिनों से धार्मिक अनुष्ठानों का आयोजन नहीं किया जा रहा था. शंख ध्वनि, वेद मंत्रों द्वारा 21 ब्राह्मणों के द्वारा मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया गया.

Tags
Back to top button