राष्ट्रीय

उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद-सीलमपुर इलाके में कुल 21 लोग जख्मी

दो अलग-अलग मामलों मे फिलहाल 5 लोगों को हिरासत में

नई दिल्ली:उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद-सीलमपुर इलाके में अचानक शुरू हुई पत्थरबाजी से सड़क-गलियों में आ जा रहे लोगों में भगदड़ मच गई. देखते-देखते हालात बेकाबू होते चले गए. जब तक पुलिस मोर्चे पर डटती उपद्रवियों की भीड़ चारों ओर फैल चुकी थी.

लिहाजा, आनन-फानन में दिल्ली पुलिस कमिश्नर की रिजर्व फोर्स (सीपी रिजर्व फोर्स) की 5 अतिरिक्त कंपनियों के करीब 300 जवानों को भी मौके पर बुला लिया गया. इसके साथ ही पूर्वी, शाहदरा और उत्तर पूर्वी जिले के थानों और पुलिस लाइन में मौजूद अतिरिक्त पुलिस बल को भी मौके पर बुला लिया गया.

पुलिस के मोर्चा संभालने तक हिंसा पर उतरी भीड़ दो पुलिस बूथ, दो बसें, तीन मोटरसाइकिलों को आग के हवाले कर चुकी थी. सबसे ज्यादा पथराव सीलमपुर और जाफराबाद थाना क्षेत्र में हुआ बताया जाता है.

इस दौरान हुई इस हिंसा में 12 दिल्ली पुलिस के अधिकारी-कर्मचारी, 3 आरएएफ के जवान और 7 आम नागरिक सहित कुल 21 लोग जख्मी हो गए. इस मामले में पुलिस ने दो अलग-अलग मामले दर्ज कर फिलहाल 5 लोगों को हिरासत में ले लिया है.

इस प्रदर्शन में दो केस दर्ज किए जा रहा है. एक जफराबाद में एक सीलमपुर में. 5 लोगों को हिरासत में लिया गया है. दो बस ओर तीन बाइक में तोड़ फोड़ किया गया था. दो पुलिस बूथ में तोड़फोड़ किया गया है.

Tags
Back to top button