राष्ट्रीय

अब रेलवे से जुड़ी समस्याओ के लिए ,ये ऐप करेगा मदद

यात्री खाने की गुणवत्ता या गंदे शौचालय या किसी अन्य मुद्दे पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकेंगे.

रेलवे से जुडी कसीस भी समस्या या असुविधा की शिकायत करना चाहते हैं तो ये खबर आपके लिए हैं, इसके लिए आपके पास ट्विटर, फेसबुक, हेल्पलाइन या शिकायत रजिस्टर आदि की सुविधा है. लेकिन अब रेलवे इससे आगे एक कदम बढ़ा रहा है. रेलवे इस महीने के आखिरी में ‘मदद’ (मोबाइल एप्लीकेशन फॉर डिजायर्ड असिस्टेन्स ड्यूरिंग ट्रैवल ) के नाम से एक मोबाइल एप्लीकेशन लाने जा रहा है जिसके जरिए यात्री खाने की गुणवत्ता या गंदे शौचालय या किसी अन्य मुद्दे पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकेंगे. इस एप के जरिए वे आपात सेवाओं के लिए भी आग्रह कर सकेंगे.

एप के जरिए संबंधित विभागों के संबंधित अधिकारियों तक सीधे शिकायत पहुंच जाएंगी और ऑनलाइन कार्रवाई हो सकेगी. इस तरह से शिकायतों का पंजीकरण और निवारण की पूरी प्रक्रिया तेजी से हो सकेगी. यात्री अपनी शिकायतों की यथा स्थिति और मामले में की गयी कोई भी कार्रवाई की जानकारी भी हासिल कर सकेंगे. प्रस्तावित एप से रेलवे के सभी यात्रियों की शिकायतें और निवारण तंत्र एक मंच पर आ जाएंगे.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘अब तक हमारे पास 14 माध्यम है जिसके जरिए यात्री अपनी शिकायतें दर्ज करा सकते हैं। सबका जवाब देने का अपना समय है और साथ ही जवाब का मानक भी अलग है। कभी कोई सक्रिय रहता है , कभी नहीं रहता है. हम एक पारदर्शी , मानकीकृत शिकायत निवारण प्रक्रिया चाहते हैं. यह एप इस महीना शुरू हो सकता है.’

यात्री अपनी शिकायतें पीएनआर टाइप कर दर्ज कर सकते हैं. पंजीकरण के समय एसएमएस के जरिए उन्हें एक शिकायत आईडी मिलेगा. इसके बाद संबंधित विभाग द्वारा की गयी कार्रवाई के बारे में व्यक्तिगत एसएमएस के जरिए जानकारी दी जाएगी.

टिप्पणियांअधिकारी ने बताया कि इस एप में महीने में मिलने वाली कुल शिकायतों और भारतीय रेलवे द्वारा उनके निवारण के बारे में भी जानकारी मुहैया करायी जाएगी. उन्होंने बताया ‘इस व्यवस्था के शुरू होने का मतलब यह नहीं है कि हम अन्य मंचों पर शिकायतों पर कार्रवाई नहीं करेंगे. हम इस एकीकृत व्यवस्था का उपयोग करना चाहते हैं.’

Summary
Review Date
Reviewed Item
अब रेलवे से जुड़ी समस्याओ के लिए ,ये ऐप करेगा मदद
Author Rating
51star1star1star1star1star

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.