बैंगलोर में 25 बैगा जनजाति के लोगों को बनाया बंधक, एसपी से शिकायत

कवर्धा।

छत्तीसगढ़ के करीब 25 संरक्षित बैगा जनजाति के लोगों को बैंगलोर के एक करोबारी ने बंधुआ मजदूर बनाकर रखा है। ये सभी लोग बैंगलोर की एक पल्प नाम की जूस कंपनी में काम करने गए थे। कंपनी के लोगों ने इन मजदूरों को 10 हजार रूपए मासिक वेतन देने के नाम पर बैंगलोर आने का प्रस्ताव दिया था। जिसे स्वीकार कर 25 से भी लोग बैंगलोर चले गए।

वहां पहुंचने के बाद शुरू में कुछ दिन सब ठीक रहा लेकिन बाद में इन सभी लोगों को बंधक बना लिया गया। बंधक बनाये गये ये सभी लोग पंडरिया क्षेत्र के रहने वाले है। इनमें से एक महिला किसी तरह वहां से भागने में कामयाब रही।

महिला ने अपने गांव पंडरिया पहुंचकर परिजनों को सारा मामला बताया। फिर महिला ने कवर्धा एसपी से शिकायत की। पुलिस ने कहा है कि जल्द ही पुलिस राजस्व श्रम विभाग की टीम के साथ बैंगलोर के लिए रवाना होगी।

Back to top button