छत्तीसगढ़

डीएलएस पीजी कॉलेज में बीएससी के 68 में 25 को मिला शून्य, छात्रों में नाराजगी

कॉलेज और विश्वविद्यालय प्रशासन के बीच टकराव का नुकसान छात्रों को भुगतना पड़ रहा

हर्षवर्धन

बिलासपुर। डीएलएस पीजी कॉलेज के बीएससी द्वितीय वर्ष केछात्रों को शून्य नंबर मिला है। नाराज छात्र-छात्राओं ने कुलपति प्रो जीडी शर्मा से लिखित शिकायत कर मूल्यांकन में गंभीर त्रुटि होने की बात कही है।

अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय परीक्षा विभाग ने सत्र 2017-18 के लिए पूरक परीक्षा आयोजित की। डीएलएस कॉलेज के छात्रों का परीक्षा केंद्र शासकीय जमुना प्रसाद पीजी महाविद्यालय को बनाया था।

बीएससी द्वितीय वर्ष रसायन विषय के प्रथम एवं द्वितीय के जिन छात्रों को पूरक की पात्रता मिली थी तैयारी के साथ परीक्षा में शामिल हुए थे। अधिकांश को कम नंबर मिले हैं। 25 छात्र-छात्राओं को जीरो नंबर मिला।

जबकि अन्य को दो से दस नंबर दिया गया है। गौरतलब है कि कॉलेज और विश्वविद्यालय प्रशासन के बीच टकराव का नुकसान छात्रों को भुगतना पड़ रहा है। विश्वविद्यालय ने नियमों का हवाला देते हुए पहले ही प्रथम वर्ष की संबद्धता रोका दिया है।

0- मूल्यांकन को लेकर छात्रों में नाराजगी

न्यायालय की शरण में जाने के बाद छात्रों को थोड़ी बहुत राहत मिली उसमें भी अब ऐसा रिजल्ट देखकर छात्रों का मनोबल कमजोर हुआ है। कुलपति से इसकी लिखित शिकायत कर तत्काल जांच करने की मांग की है।

अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय स्थापना के बाद से अभी तक मूल्यांकन को लेकर छात्रों में नाराजगी है। शिकायत करने के बाद जांच के नाम पर केवल खानापूर्ति कर दी जाती है।

कुछ दिन पहले कुलपति कक्ष में छात्रों ने दिया था धरना

मजबूरी में कोई छात्र अगर सूचना का अधिकार अधिनियम का उपयोग करता है तो मूल्यांकन की प्रक्रिया इतना पेचिदा है कि तब तक दूसरा सत्र आरंभ हो जाता है। पिछले दिनों कुछ अन्य त्रो ने कुलपति कक्ष में धरना भी दिया था।

डीएलएस कॉलेज के छात्रों को पूरक में शून्य नंबर मिलने की जानकारी अभी मुझे नहीं है। ऐसा कोई प्रकरण आता है तो नियमानुसार जांच की जाएगी। छात्रहित में निर्णय लिया जाएगा।

Tags
Back to top button