26 पेटी अवैध शराब एवं स्कार्पिंयो वाहन को छोड भागा आरोपी पुलिस के हत्थे चढा

- हिमांशु सिंह ठाकुर

कवर्धा: डाॅ. लाल उमेद सिंह, पुलिस अधीक्षक कबीरधाम के मार्गनिर्देशन एवं घनश्याम कामडे़ उप पुलिस अधीक्षक के दिषा-निर्देष में आगामी लोकसभा चुनाव एवं होली त्यौहार के पूर्व संदिग्ध वाहनों की चेंकिग हेतु सभी थाना क्षेत्रांतर्गत नाकाबंदी पांईट लगाये जाने बाबत् आदेशित किया गया था। इसी तारतम्य में दिनांक- 07.03.2019 की रात्रि में थाना कवर्धा स्टाफ के द्वारा नाकाबंदी पांईट लगाया गया था, कि मुखबीर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि एक स्कार्पियों वाहन तेज गति से आ रही है तथा उनमें बैठे हुये व्यक्तियों की गतिविधियाॅ संदिग्ध लग रही है, कि उक्त मुखबीर की सूचना की तस्दीकी हेतु ग्राम राम्हेपुरकला में थाना कवर्धा स्टाफ के द्वारा नाकाबंदी पांईट लगाया गया। जो रात्रि में करीब 02ः15 बजे पोड़ी की ओर से तेज गति से एक स्कार्पियों वाहन जिसका नंबर सीजी 07 ।न् 4056 आ रही थी।

जिसे रूकवाने का प्रयास किये जाने पर स्कार्पियो वाहन नाकाबंदी पांईट के कुछ दूरी पर रूकी एवं उसमें सवार व्यक्ति अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गये। षंका होने पर पुलिस पार्टी के द्वारा उक्त वाहन के पास जाकर चेकिंग की गयी। वाहन में कोई भी व्यक्ति सवार नहीं था तथा वाहन में अवैध रूप से 26 कार्टून गोवा विस्की षराब सील बंद मिला। जिसकी कीमती 1,04,000 रूपये है। स्कार्पियो वाहन में सवार व्यक्तियों के द्वारा अवैध रूप से धन अर्जित करने के लिए भारी मात्रा में शराब परिवहन करना पाये जाने से अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध थाना कवर्धा में अपराध क्रमांक 103/19 धारा 34 (2) आबकारी एक्ट के तहत् मामला पंजीबद्ध किया जाकर 26 कार्टून गोवा विस्की शराब कीमती 1,04,000 रूपये एवं 01 नग स्कार्पियों वाहन सीजी 07 ।न् 4056 को जप्त कर कब्जा पुलिस लिया गया था।

जिसकी पतासाजी हेतु पुलिस अधीक्षक के निर्देश में थाना प्रभारी निरीक्षक बृजेश कुशवाहा के द्वारा टीम बानाकर लगातार आरोपी का पतासाजी किया जा रहा था। जिसमें कोतवाली टीम को मुख्य आरोपी संतोष सिंह उम्र 29 वर्ष पिता धर्मजीत सिंह को भिलाई के खुर्सीपार निवास स्थान में पुलिस टीम के द्वारा नजर रखी गयी थी, आरोपी को निवास स्थान के पास दिनांक 18.03.2019 को देख गया, तथा आरोपी संतोष सिंह पुलिस को देख वहाॅ से भागने की कोशिश करने लगा। पुलिस टीम ने उसे घेर कर धर-दबोचने में सफलता हासील की और आरोपी के खिलाफ आबकारी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर कार्यावाही की गयी।

Back to top button