भिलाई में डेंगू से 27 वीं मौत, 15 हजार से अधिक लोग प्रभावित

भिलाई .

चरोदा निगम क्षेत्र में गुरुवार को डेंगू से एक युवक की मौत हो गई। मिली जानकारी के अनुसार चरोदा निवासी 28 वर्षीय प्रवीण अग्रवाल की बीती रात डेंगू से मौत हो गई। युवक का उपचार रायपुर के निजी अस्पताल में चल रहा था। स्थिति बिगडऩे पर उसे हैदराबाद इलाज के लिए जाया जा रहा था। इसी बीच युवक की मौत हो गई। डेंगू से भिलाई में यह 27 वीं मौत है।

एक-दूसरे पर ठीकरा फोडऩे में लगे हैं

पूरा शहर डेंगू की चपेट में है। 24 दिनों में 26 मौतें हो चुकी है। 15,000 से भी अधिक लोग प्रभावित हुए हैं। मौत और पीडि़तों के आंकड़े थमने की बजाए बढ़ते ही जा रहे हैं और जिम्मेदार हैं कि एक-दूसरे पर ठीकरा फोडऩे में लगे हैं। स्वास्थ्य आयुक्त आर. प्रसन्ना ने कहा है कि भिलाई में डेंगू फैलने के लिए स्थानीय प्रशासन जिम्मेदार है।

कलेक्टर ने कहा मैं गली-गली घूम रहा

कलेक्टर उमेश अग्रवाल ने यह कहकर पल्ला झाड़ लिया कि स्थानीय प्रशासन ही बताएगा। मैं तो जब से डेंगू फैला है रोज गली-गली घूम रहा हंू। नगर निगम आयुक्त केएल चौहान इस पर कुछ भी नहीं कहना चाहते। स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर और जिले के प्रभारी मंत्री राजेश मूणत को यहां आने की फुर्सत ही नहीं मिली। स्थानीय नुमाइंदेे आरोप-प्रत्यारोप और मदद की शोबाजी में मस्त हैं।

पल्ला झाडऩे में व्यस्त अधिकारी

इधर लोगों का कहना है कि शुरुआत में ही एक-दो मौत के बाद अगर प्रशासनिक अधिकारी और जनप्रतिनिधि अलर्ट हो जाते तो यहां डेंगू महामारी का रूप नहीं लेता। निगम प्रशासन, मच्छर जनित बीमारी पर नियंत्रण जिला स्वास्थ्य विभाग का काम है कहकर हाथ पर हाथ धरे बैठा रहा। जिला स्वस्थ्य विभाग, मच्छर उन्मूलन और सफाई स्थानीय निकाय की जिम्मेदारी कहकर पल्ला झाड़ता रहा।

जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालस एवं अनुसंधान केंद्र सेक्टर-9 में भर्ती डेंगू पीडि़तों की संख्या 40 के पार पहुंच गई थी तब भी जिम्मेदार अधिकारी यह कहकर झुठलाने में लगे रहे कि बगैर एलाइजा टेस्ट के कैसे मान लें? जब तक नींद खुली बहुुत देर हो चुकी थी।

पाटन ब्लॉक में मिले डेंगू के सात मरीज

डेंगू का वायरस अब गांवों में भी फैल रहा है । बुधवार को पाटन ब्लॉक के ग्राम पतोरा, धौराभाठा और पहंडोर में सात डेंगू पीडि़त मिले हैं। ग्राम पंहडोर के अश्वनी (27) को जिला अस्पताल दुर्ग रेफर किया गया। यहीं के राहुल पिता विजय राय (12) को जिला चिकित्सालय में प्रतिदिन सीबीसी जांच कराने की सलाह दी गई है। ग्राम धौराभाठा के रोहित साहू (35) का सेक्टर 9 अस्पताल में इलाज चल रहा है।

ग्राम पतोरा की लक्ष्मी (31), दीपक साहू (29), पुष्पा साहू (38) और सुकदेव ठाकुर (35) को डेंगू है। स्वास्थ्य विभाग की टीम इन गावों में पहुंचकर ग्रामीणों को बचाव व सावधानियों के बारे में बताया। सामान्य सर्दी बुखार के मरीजों को भी तुरंत ब्लड टेस्ट कराने के लिए कहा जा रहा है। राज्य शासन के निर्देश के बाद गांव-गांव में रैली निकालकर लोगों को डेंगू के लक्षण और उसके बचाव के तरीकों के बारे में बताया जा रहा है। बुधवार को स्वास्थ्य विभाग का अमला पतोरा के कई घरों के कूलर, घर में रखे टायर में भरे हुए पानी को खाली करवाया।

Back to top button