बिजली खर्च करने वालों के बिल में जुड़ेंगे 28 रुपये ज्यादा, जानिए पूरा गणित

मध्य प्रदेश की बिजली कंपनियों (Power companies of Madhya Pradesh) ने इस वित्तीय वर्ष की तीसरी तिमाही 1 अक्टूबर से 31 दिसंबर 2021 के लिए फ्यूल कास्ट एडजस्टमेंट (Fuel Cost Adjustment) (एफसीए) की दर माइनस (-) 7 पैसे प्रति यूनिट निर्धारित की है.

जबकि इस वित्तीय वर्ष (financial year) की दूसरी तिमाही 1 जुलाई से 30 सितंबर 2021 तक के लिए एफसीए की दर माइनस (-) 20 पैसे प्रति यूनिट थी. नई दर लागू होने से विद्युत उपभोक्ताओं (Electricity consumers) को 13 पैसे प्रति यूनिट का नुकसान होगा.

100 यूनिट खर्च करने वालों पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा. लेकिन, इससे ज्यादा होगा तो बिल भी ज्यादा देना होगा. 200 यूनिट बिजली जलाने पर बिल में 28 रुपये ज्यादा जुड़ेंगे.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button