28 को प्रेमचंद को किया जायेगा याद, छात्र भी पढेंगे अपनी रचनाएं

नारायणी साहित्य अकादमी एवं ज्ञानवाहिनी शिक्षण समिति के संयुक्त तत्वावधान में कुशालपुर, तिरंगा चौक के पास स्थित पाञ्चजन्य विद्या मंदिर में शनिवार 28 जुलाई दोपहर डेढ बजे कथा सम्राट प्रेमचंद को याद करते हुए प्रेमचंद की कहानियों में सामाजिक संदेश विषय पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया है।

संस्था की प्रादेशिक अध्यक्ष डॉ. मृणालिका ओझा ने बताया कि इस अवसर पर विद्यालय के छात्रों द्वारा प्रेमचंद की कहानी ‘ठाकुर का कुआँ’ के पाठ के अतिरिक्त करीब आठ – दस छात्रों द्वारा स्वरचित रचना का पाठ भी किया जायेगा। विद्यालय की शिक्षिका श्रीमती शारदा अग्रवाल द्वारा प्रेमचंद की कहानी ईदगाह पर अपने विचार व्यक्त किये जायेंगे।

कार्यक्रम की मुख्य अतिथि प्रख्यात कवयित्री शशि दुबे होंगी एवं ख्यातिप्राप्त व्यंगकार डॉ. स्नेहलता पाठक कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगी । इस अवसर पर विद्यालय के संचालक कृष्ण कुमार शर्मा, प्राचार्य इन्द्राणी शर्मा, रजनीश कुमार यादव, हिन्दी अधिकारी, स्टेट बैंक ओफ इण्डिया, अजय अवस्थी किरण, संयोजक, वृन्दावन ग्रंथालय विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे। शहर के साहित्यकारों से उपस्थितिका आग्रह है।

Back to top button