राष्ट्रीय

रिपोर्ट : देश में 24 घंटे में 2800 लोग मरते हैं तंबाकू से

नई दिल्ली : सिगरेट और नशे से होने वाले दुष्परिणामों से हम सभी वाकिफ हैं, लेकिन फिर भी पूरी दुनिया में इसका चलन दिनों -दिन बढ़ता ही जा रहा है। इन मौतों पर विश्व स्वास्थ्य संगठन के नए आंकड़ें काफी चौंकाने वाले हैं।

डब्ल्यूएचओ के मुताबिक तंबाकू और धूम्रपान सेवन के कारण दुनिया में हर छह सेकेंड में एक व्यक्ति की मौत होती है, जबकि भारत में हर रोज यानी हर 24 घंटे में 2800 से ज्यादा लोग तंबाकू उत्पादों के सेवन की वजह से मर जाते हैं।

वॉयस आॅफ टोबेको विक्टिमस ने डब्ल्यूएचओ के आंकड़ों के मुताबिक बताया कि एक सिगरेट जिंदगी के 11 मिनट कम कर देता है। आकड़ों के मुताबिक तंबाकू और धूम्रपान उत्पादों के सेवन से औसतन हर घंटे 114 लोग जान गंवा रहे हैं, जबकि दुनिया में प्रति छह सेकेंड में एक मौत हो रही है।

वायॅस आफ टोबेको विक्टिम्स के मुताबिक तंबाकू का सेवन करने वालों के जीन में भी आंशिक परिवर्तन होते हैं, जिससे केवल उस व्यक्ति में ही नहीं बल्कि आने वाली पीढ़ियों में भी कैंसर होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। इसके साथ ही इन उत्पादों के सेवन से जहां पुरुषों में नपुंसकता बढ़ रही है, वहीं महिलाओं में प्रजनन क्षमता भी कम होती जा रही है और इसका प्रभाव महिला प्रेग्नेंट होती है तो बच्चों होता है।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *