29 छात्राओं ने छोड़ा अपना-अपना होस्टल, असल वजह का पता नहीं

स्कूल के हेडमास्टर मनोज रथ ने कहा कि छात्राओं की तलाश जारी है

परालाखेमुंडी: गजपति जिले के अंतराबा में मोहन ब्लॉक के अनुसूचित जनजाति एवं अनुसूचित जाति विकास द्वारा संचालित स्कूल में कम से कम 29 छात्रों ने आवासीय स्कूल छोड़ दिया है. अभी तक लड़कियों के हॉस्टल छोड़ने की असल वजह का पता नहीं चल पाया है.

ऐसा संदेह है कि छात्राएं ‘‘कई मुद्दों को लेकर स्कूल प्रशासन से खुश’’ नहीं थीं. गजपति जिला कल्याण अधिकारी (डीडब्ल्यूओ) संतोष रथ ने बताया कि घटना की जांच के आदेश दिए गए हैं और इसके बाद ही असल वजह का पता चलेगा.

हालांकि डीडब्ल्यूओ ने कहा कि छात्राओं ने हाथ से लिखा एक पत्र छोड़ा है जिसमें कहा गया है कि कुछ मुद्दों के संबंध में स्कूल के कुछ शिक्षक उनके साथ सहयोग नहीं कर रहे हैं जिसके बाद उन्हें हॉस्टल छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा और वह इस मामले को जिलाधीश के संज्ञान में लाना चाहती हैं.

इस बीच, स्कूल के हेडमास्टर मनोज रथ ने कहा कि छात्राओं की तलाश जारी है. उन्होंने कहा कि इसके लिए स्कूल के कर्मचारियों को उन छात्राओं के घर भेजा गया है. सूत्रों ने बताया कि नौंवी कक्षा की ये लड़कियां रविवार को सुबह तिकिलिपारा गांव के समीप देखी गई थीं लेकिन उसके बाद उनका कोई अता-पता नहीं है.

1
Back to top button