छत्तीसगढ़

दूसरे की जगह TET एग्जाम देते हुए 3 मुन्नाभाई गिरफ्तार, लाखों में होता है सौदा

लखनऊ: आधुनिक तकनीक और कड़ी सख्ताई के बाद भी संजय दत्त की फिल्म ‘मुन्नाभाई एमबीबीएस’ की तर्ज पर दूसरों के स्थान पर परीक्षा देने वाले पूरी तरह सक्रिय हैं. उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने अध्यापक पात्रता परीक्षा की ऑफलाइन भर्ती परीक्षा (टीईटी)-2017 में दूसरे की जगह परीक्षा दे रहे तीन सदस्यों को इलाहाबाद से गिरफ्तार किया है. पकड़े जाने वालों में जालिम सिंह यादव, खुशबू यादव और अशोक कुमार यादव शामिल हैं. तीनों प्रतापगढ़ के आसपुर देवसरा थाना निवासी हैं.

एसटीएफ के एसएसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि रविवार को टीईटी ऑफलाइन भर्ती परीक्षा के दौरान एसटीएफ को खबर मिली कि इलाहाबाद के परीक्षा केंद्र ईश्वरसरण बालिका इंटर कॉलेज और राजकीय कन्या इंटर कॉलेज में दूसरे अभ्यर्थी की जगह परीक्षा दे रहे हैं और उसकी एवज में अवैध वसूली की जा रही है. इस सूचना पर टीम वहां पहुंची और तीनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया.

पूछताछ पर अभियुक्त जालिम सिंह यादव ने बताया कि वह वर्तमान में सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहा है और पेपर सॉल्वर के रूप में अपनी भतीजी खुशबू यादव को अपनी भाभी ममता यादव के स्थान पर ईश्वरसरण बालिका इंटर कॉलेज में व अपने स्थान पर अशोक यादव को राजकीय कन्या इंटर कॉलेज में परीक्षा देने के लिए भेजा था.

उन्होंने कहा कि अशोक यादव को इस काम के लिए 50,000 रुपये देने की बात तय हुई थी, जिसमें से 5,000 रुपये उसे एडवांस मिले थे.

जालिम यादव ने बताया कि इलाहाबाद में फोटो मिक्सिंग करके परीक्षा फार्म पर फोटो लगाकर वास्तविक अभ्यर्थी के स्थान पर सॉल्वर बैठाने वाले कई गैंग सक्रिय हैं. सामान्यत: अभ्यर्थी स्वंय ही सॉल्वर से संपर्क करके 50 हजार से लेकर एक लाख रुपये तक देकर फोटो मिक्सिंग कराकर फार्म जमा करा देते हैं. इस गिरोह की अन्य गतिविधियों के संबंध में छानबीन की जा रही है.

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.