बिलासपुर जिले में अलग-अलग हादसों में 3 महिलाओं की मौत

अंकित मिंज

पेंड्रा/लोरमी। बिलासपुर जिले में हुए अलग-अलग हादसों में गुरुवार को तीन महिलाओं की मौत हो गई। जबकि एक महिला का पति बचाने की चक्कर में बुरी तरह से आग में झुलस गया।

उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पेंड्रा में जहां एक महिला को सांप ने डस लिया, वहीं दूसरी की मौत कुएं में डूबने से हो गई।

लोरमी में खाना बनाते समय झुलसी महिला ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। कुएं से पानी भरने के दौरान पैर फिसला, कुएं में गिरी ग्राम अड़भार निवासी रामबाई (40) पति कुंवारेलाल भरिया बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात करीब 1 बजे दिशा मैदान के लिए घर से खेत गई थी।

जब वह घर वापस पहुंची तो मुंह से झाग निकल रहा था और वह बेहोश होकर खाट पर गिर पड़ी। इसके बाद उसके पति कुंवारेलाल ने परिजन को इसकी सूचना दी।

रात करीब 2.30 बजे परिजन उसे अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। रामबाई के दाहिने हाथ के अंगूठे में सर्पदंश का निशान था और उसके हाथ व शरीर नीला पड़ चुका था। पुलिस ने मर्ग कायम करके पंचनामा और पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार के लिए शव को परिजन को सौंप दिया है।

दूसरा मामला ग्राम घघरा का है। 58 वर्षीय फूलबाई पति समार सिंह गोड़ गुरुवार की सुबह 5 से 6 बजे के बीच घर की बाड़ी के कुएं से पानी भरने गई थी। अचानक पैर फिसलने से वह कुएं में गिर गई और डूबने से उसकी मौत हो गई।

महिला के कुएं में डूबने से मौत की सूचना उसके बेटे कुमार सिंह ने पेण्ड्रा थाने में दी। इसके बाद पुलिस ने मर्ग कायम करके पंचनामा व पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार के लिए शव को परिजन को सौंप दिया है।

दोनों ही मामलों को पुलिस ने विवेचना में भी ले लिया है। पत्नी के कपड़े में लगी आग, मौत, बचाने पहुंचा पति भी झुलसा लोरमी नगर पंचायत के वार्ड क्रमांक 1 निवासी रनिया ढ़ीमर खाना बना रही थी। अचानक उसके कपड़े में आग लग गई।

उसका पति दीपक आग बुझाने की कोशिश करते हुए झुलस गया। दोनों सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लोरमी लाया गया, जहां दोनों को सिम्स रेफर कर दिया गया। इलाज के दौरान महिला की मौत हो गई, वहीं पति का इलाज चल रहा है।

Back to top button