छत्तीसगढ़राजनीतिराज्य

सामूहिक विवाह में 300 जोड़े दाम्पत्य सूत्र में बंधे

मंत्रियों और जनप्रतिनिधियों ने दिया वर-वधू को आशीर्वाद

नवदम्पतियों को उपहार में मिला घरेलू सामग्री

रायपुर: मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना अंतर्गत जिला मुख्यालय दंतेवाड़ा में आयोजित सामूहिक विवाह में 300 वर-वधू दाम्पत्य सूत्र में बंधे। प्रदेश के महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेडि़या,आबकारी एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा, सांसद बस्तर  दीपक बैज, जिला पंचायत अध्यक्ष तुलिका कर्मा और क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों सहित अधिकारियों ने नवदम्पत्तियों को आशीर्वाद दिया तथा उनके सुखमय जीवन की कामना की।

मुख्यमंत्री कन्या विवाह के अवसर पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेडि़या ने कहा कि प्रत्येक माता-पिता को अपने बच्चों के शादी की चिन्ता होती है, आज के समय में शादी में लाखो रूपये खर्च हो जाते हैं, सामूहिक विवाह एक पुनीत कार्य है।

सामूहिक विवाह के माध्यम से कम खर्च में एक ही मंच पर एक से अधिक जोड़ों का विवाह संपन्न हो जाता है, सब लोग मिलकर वर-वधू को आशीर्वाद देते है और उनके सुखमय जीवन की कामना करते है। फिजुल खर्च से बचने का यह एक अच्छा उदाहरण है, इस कार्यक्रम को देख कर अन्य लोग भी प्रेरित होंगे।

अनिला भेडि़या ने कहा कि राज्य शासन द्वारा मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में शामिल वर-वधू को सहायता राशि 15 हजार रूपये से बढ़ाकर 25 हजार रूपये कर दिया गया है। इसी प्रकार दिव्यांग दम्पत्तियों को 50 हजार रूपये से बढ़ाकर 01 लाख रूपये की सहायता दी जा रही है।

इस अवसर पर उन्होने तीन मेधावी दिव्यांग बच्चों नीला बंजाम, मंगल कुंजाम, बुधराम कोर्राम तथा कमलेश कश्यप को क्षितिज अपार संभावनाओं योजना के तहत प्रोत्साहन राशि का चेक प्रदान किया। इसके साथ ही राष्ट्रीय परिवार सहायता योजनान्तर्गत चार हितग्राहियों को 20-20 हजार रूपये आर्थिक सहायता राशि का चेक प्रदान किया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए आबकारी एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने सामूहिक विवाह में शामिल नवदम्पत्तियों को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि एक मंच पर 300 जोड़ों का विवाह संपन्न हो रहा है, जो बहुत ही खुशी की बात है।

बस्तर संभाग हमेशा सरकार की प्राथमिकता में रही है, यहॉ के राशन कार्डधारी परिवारों को चांवल, चना और 02 किलो गुड़ भी दिया जा रहा है तथा आंगनबाड़ी के बच्चों को कुपोषण से मुक्त करने के लिए पौष्टिक भोजन के साथ अण्डा भी दिया जा रहा है।

बस्तर के विकास के लिए छत्तीसगढ़ सरकार तत्पर है। उन्होने मुख्यमंत्री कन्या विवाह में शामिल वर-वधू को सहायता राशि 15 हजार रूपये से बढ़ाकर 25 हजार रूपये करने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार द्वारा गरीबों के लिए यह एक बहुत बड़ी मदद हैं। उन्होने सामूहिक विवाह में शामिल नव दम्पत्तियों के सुखमय जीवन के लिए आशीर्वाद दिया और विकास के ओर अग्रसर होने का आग्रह किया।

सांसद बस्तर दीपक बैज ने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह शासन की बहुत बड़ी योजना है, गरीब जनता के लिए यह बहुत बड़ी मदद है। इससे गरीब परिवारों के बच्चों की शादी संपन्न कराने में मदद मिलती है, साथ ही कार्यक्रम में शामिल छोटे-बड़े सभी लोगों का आशीर्वाद भी मिलता है। कार्यक्रम को जिला पंचायत सदस्य सुलोचना वट्टी ने भी संबोधित किया एवं नवदम्पत्तियों को उनके सुखमय जीवन के लिए आशीर्वाद दिया।

आरंभ में कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजनान्तर्गत आज जिले में कुल 300 जोड़ों का सामूहिक विवाह संपन्न हो रहा है, जिसमें 7 जोडे़ ईसाई समुदाय के सम्मिलित है। इन सभी नवदम्पतियों को घरेलु उपयोग के लिए 19 हजार रूपये की सामग्री प्रदान करने के साथ ही एक हजार रूपये नगद प्रदान किया जा रहा है।

उन्होने नवदम्पतियों को शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित होकर विकास कीे ओर अग्रसर होने का आग्रह किया और इन नवदम्पतियों को सुखमय दाम्पत्य जीवन का आर्शीवाद दिया।

इस अवसर पर नगरपालिका परिषद अध्यक्ष दंतेवाड़ा पायल गुप्ता, नगर पंचायत अध्यक्ष गीदम साक्षी शिवहरे, जनपद पंचायत अध्यक्ष दंतेवाड़ा सुनीता भास्कर,विमल सुराना सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधि और पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव, जिला पंचायत सीईओ एस आलोक तथा जिला प्रशासन के अधिकारी, मीडिया प्रतिनिधी एवं बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Tags
Back to top button