राष्ट्रीय

यंग थिंकर्स कॉन्क्लेव में आज से जुटेंगे 300 युवा चिंतक

मध्यप्रदेश की राज्यपाल करेंगी उद्घाटन, दो दिन तक विभिन्न विषयों पर होगा मंथन

भोपाल : यंग थिंकर्स फोरम और राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, भोपाल के तत्वावधान में 11-12 अगस्त को यंग थिंकर्स कॉन्क्लेव का आयोजन किया जा रहा है। यह मध्यप्रदेश के लगभग 300 युवा चिंतकों का बौद्धिक समागम है, जो प्रदेश के विभिन्न जिलों से कॉन्क्लेव के लिए भोपाल आ रहे हैं। यंग थिंकर्स कॉन्क्लेव का उद्घाटन राज्यपाल आनंदीबेन पटेल करेंगी। उद्घाटन समारोह में प्रज्ञा प्रवाह के अखिल भारतीय संयोजक जे. नंदकुमार मुख्य अतिथि होंगे। इस अवसर पर विचारक एवं राज्यसभा सांसद प्रो. राकेश सिन्हा ‘राष्ट्रीयता की संकल्पना एवं अवधारणा’ विषय पर मुख्य वक्तव्य देंगे। उद्घाटन समारोह का आयोजन राज्यपाल की अध्यक्षता में पीपुल्स विश्वविद्यालय के सभागार में प्रात: 9 बजे से होगा।

यंग थिंकर्स कॉन्क्लेव (वायटीसी) के सह संयोजक आशुतोष ठाकुर ने बताया कि यंग थिंकर्स कॉन्क्लेव एक ऐसा मंच है जो ऐसे युवाओं को एक साथ लेकर आया है, जो राष्ट्र हित के मुद्दों पर चिंतन करते हैं। कॉन्क्लेव में प्रदेश के लगभग सभी जिलों से युवाओं ने पंजीयन कराया है। कॉन्क्लेव में चयनित 300 युवा हिस्सा ले रहे हैं। उन्होंने बताया कि दो दिन तक देश और समाज से जुड़े विभिन्न विषयों पर विचार-विमर्श किया जाएगा। इस आयोजन की सहयोगी संस्थाओं में मध्यप्रदेश का संस्कृति विभाग और तकनीकी शिक्षा विभाग शामिल है। इसके साथ ही आयोजन को माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, मैनिट, जीवाजी विश्वविद्यालय ग्वालियर, बरकरउल्लाह विश्वविद्यालय, अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय, भोज विश्वविद्यालय, पीपुल्स विश्वविद्यालय, एलएनसीटी विश्वविद्यालय, एसएजीई विश्वविद्यालय, ओरिएंटल विश्वविद्यालय, टीआईटी और प्रज्ञा प्रवाह का भी सहयोग प्राप्त है।

पहले दिन इन विषयों पर होगी चर्चा : ठाकुर ने बताया कि 11 अगस्त को उद्घाटन के बाद सभी बौद्धिक सत्र राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के सभागार में आयोजित होंगे। पहले दिन प्रात: 11:30 बजे ‘ब्रेकिंग इंडिया’ विषय पर अरविंदन नीलकंदन का व्याख्यान होगा। दोपहर 3 बजे से डिकॉलोनाइजिंग इंडियन एकेडमिक्स विषय पर संक्रांत सानु और आरवीएस मणि चर्चा करेंगे। इसके बाद विभिन्न थिंक टैंक के साथ प्रतिभागी युवाओं को बातचीत का अवसर रहेगा। इस सत्र में सीआईएस के पंकज सक्सेना, इंडिया फैक्ट के नितिन श्रीधर और स्वराजमार्ग के अरिहंत पावरिया उपस्थित रहेंगे। ‘अर्बन नक्सलिज्म एंड इंटलेक्चुअल टेरिज्म’ विषय पर फिल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री और सर्वोच्च न्यायालय की अधिवक्ता मोनिका अरोरा युवाओं के साथ चर्चा करेंगी। शाम 6 बजे से समानांतर सत्रों का आयोजन होगा, जिनमें इंडिक व्यू ऑफ इनवायरमेंट, इंडिक व्यू ऑफ वुमन इन्पावरमेंट, इंडिक व्यू ऑफ लाइफ स्टाइल, इंडिक व्यू ऑफ गवर्नेंस और इंडिक व्यू ऑफ फार्मिंग जैसे विषय शामिल हैं। शाम 7:15 बजे से ‘रोल ऑफ आर्ट, कल्चर, लिटरेचर, मीडिया एंड सिनेमा इन नेशन बिल्डिंग’ विषय पर पैनल डिस्कशन का आयोजन किया जाएगा। इस चर्चा में प्रख्यात ध्रुपद गायक गुंदेचा बंधु, वरिष्ठ पत्रकार विजय मनोहर तिवारी, संस्कृति विभाग के प्रमुख सचिव एवं साहित्यकार मनोज श्रीवास्तव एवं फिल्मकार विवेक अग्निहोत्री उपस्थित रहेंगे।

दूसरे दिन इन विषयों पर होगी चर्चा : ठाकुर ने बताया कि 12 अगस्त को बौद्धिक सत्र प्रात: 9 बजे से प्रारंभ हो जाएंगे। सेवा, सामाजिक सुधार, महिला नेतृत्व, बौद्धिक नेतृत्व, उद्योग एवं व्यापार में युवाओं की भूमिका पर विचार-विमर्श किया जाएगा। इसके साथ ही इस बात पर भी चर्चा होगी कि सोशल मीडिया के माध्यम से सार्वजनिक विमर्श की गुणवत्ता को कैसे सुधारा जा सकता है। वहीं, दूसरे दिन प्रज्ञाता, सृजन फांउडेशन, इंडिया फांउडेशन, इंडिक कलेक्टिव, ओपी इंडिया, निमित्तेकम, इंडिया इंस्पायर, गरुड प्रकाशन और प्रज्ञा प्रवाह के प्रतिनिधि क्रमश: आशीष धर, राहुल दीवान, रजत सेठी, साई दीपक, राहुल रौशन, ओमेन्द्र रत्नु, हर्षित जैन, अंकुर और श्रीकांत काटदरे उपस्थित रहेंगे। दो दिवसीय यंग थिंकर्स कॉन्क्लेव का समापन 12 अगस्त को शाम 5:15 बजे होगा।

Tags
jindal