छत्तीसगढ़

इंदिरा प्रियदर्शनीय जयंती के अवसर पर 232 मेधावी छात्र-छात्राओं को 33 लाख राशि किया गया वितरित

जशपुर जिले में 125 नए गौठान के लिए 63 लाख रुपए की राशि स्वीकृत

जशपुरनगर 20 नवम्बर 2020 : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इंदिरा प्रियदर्शनीय जयंती के अवसर पर 19 नवम्बर 2020 को जिले के तेन्दूपत्ता संग्राहक परिवार के 232 मेधावी एवं प्रतिभाशाली छात्र, छात्राओं को 33 लाख राशि का पुरस्कार का वितरित किया गया है। इस अवसर पर जिले के 8 मेधावी एवं प्रतिभाशाली छात्र-छात्रा तबसुम खातुन, नूतन कुमार यादव, अन्जू सिंह, पल्लवीं सिंह, प्रीति सिंह, मनीष राम, शोसन मिंज और राहुल साय को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित किया गया है। इस अवसर पर जशपुर जिले से आॅनलाईन के माध्यम से वनमण्डलाधिकारी कृष्ण जाधव, उपमण्डलाधिकारी एस गुप्ता उपस्थित थे।

जाधव ने बताया की प्राथमिक लघु वनोपज समिति अन्तर्गत तेन्दूपत्ता संग्राहक परिवार के मुखिया के 8वीं, 10वीं एवं 12वीं कक्षा में अधिकतम अंक प्राप्त करने वाले एक छात्र एवं एक छात्रा को 2000, 2500, एवं 3000 रुपए का पुरस्कार राशि छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज संघ एवं वन विभाग द्वारा दी जाती है। इसी प्रकार कक्षा 10वीं एवं 12वीं कक्षाओं में 75 प्रतिशत् या अधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को क्रमशः 15 हजार एवं 25 हजार पुरस्कार दी जाती है।

यह भी पढ़ें :-समर्थन मूल्य पर धान खरीदी हेतु समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करें : संभागायुक्त चुरेन्द्र 

उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त उच्च शिक्षा ग्रहण करने वाले छात्र-छात्राओं के लिए व्यवसायिक कोर्स के लिए 25 हजार एवं गैर व्यवसायिक कोर्स के लिए 12 हजार रुपए प्रदान की जाती है। तेन्दूपत्ता संग्राहक परिवार के बच्चों के शिक्षा के लिए प्रोत्साहिन के अतिरिक्त छत्तीसगढ़ शासन वन विभाग के द्वारा शहीद महेन्द्र कर्मा तेन्दूपत्ता समाजिक सुरक्षा योजना अंतर्गत तेन्दूपत्ता संग्रहण में लगे पुंजीकृत संग्राहक परिवार के 18 से 50 वर्ष आयु के मुखिया के सामान्य मृत्यु होने पर 2 लाख, दुर्घटना से मृत्यु होने पर 4 लाख, दुर्घटना से पूर्ण निशक्तता होने पर 2 लाख, आंशिक निशक्तता होने पर 1 लाख की अनुदान राशि प्रदान की जाती है।

50 से 59 वर्ष आयु तक सामान्य मृत्यु होने पर 30 हजार दुर्घटना मृत्यु एवं पूर्ण निशक्तता होने पर 75 हजार एवं आंशिक निशक्तता पर 0.375 लाख की सहायता राशि दी जाती है। परिवार के अन्य सदस्य के मृत्यु होने पर 0.12 लाख की सहायता राशि प्रदान की जाती है।

महात्मां गांधी नरेगा अंतर्गत जशपुर जिले में 125 नए गौठान निर्माण के लिए 63 लाख रुपए की राशि जिला गौठान प्रबंधन समिति के लिए स्वीकृत की गई है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button